Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Taliban: ‘कलाकारों का काला दौर’, पेड़ से बांधकर बेरहमी से की दुनिया को हंसाने वाले ‘कॉमेड‍ियन’ नजर मोहम्‍मद की हत्‍या

हमें फॉलो करें webdunia

नवीन रांगियाल

गुरुवार, 26 अगस्त 2021 (12:14 IST)
  • गला रेतकर धड़ को भी गोलियों से छलनी कर दिया तालिबानियों ने
  • नजर मोहम्‍मद अपने कॉमेड‍ी और टि‍कटॉक व‍ीड‍ियों के लि‍ए अफगानिस्‍तान में थे लोकप्र‍िय
  • हत्‍या के पहले उन्‍हें बांधकर कार में ब‍िठाया और थप्‍पड़ों से पीटा

तालिबान अफगानिस्‍तान में हर उस श्ख्‍स के लिए आतंक बन गया है जो दुनिया में अमन चैन और शांति चाहता है। बच्‍चों और महिलाओं की क्रूरता के लिए हत्‍या के लिए पहचाने जाने वाले तालिबान में अब कलाकारों के लिए भी ‘काला दौर’ शुरू हो गया है।

हाल ही में तालिबान के कब्‍जे वाले अफगानिस्‍तान में एक ऐसे कॉमेड‍ियन कलाकार की बेरहमी से हत्‍या कर दी गई जो लोगों को हंसाने के लिए जाने जाते थे। उनकी न सिर्फ बेरहमी से लगा रेतकर हत्‍या कर दी गई, बल्‍की मारने से पहले उन्‍हें थप्‍पड़ मारे गए और वीड‍ि‍यो बनाकर उसे वायरल किया गया।

नजर मोहम्मद उर्फ खाशा अफगानिस्तान के लोकप्रिय कॉमेडियन थे। उनकी हत्या से पहले एक वीडियो सामने आया है, जिसमें तालिबानी उन्हें गाड़ी में बैठाकर थप्पड़ मार रहे थे।

कलाकार नजर मोहम्‍मद उर्फ खाशा ज्वैन अफगानिस्तान में कॉमेडी वीडियो और टिकटॉक वीड‍ियो बनाते थे। वे अपने इस हुरन के लिए बहुत लोकप्र‍िय थे। लेकिन उन्‍हें बेहद बेरहमी से मार दिया गया। पहले तो तालिबान ने इस हत्या में अपना हाथ होने से इनकार कर दिया था, लेकिन बाद में एक वीडि‍यो से इस बात की पुष्‍ट‍ि हो गई कि तालिबानियों ने ही उनकी हत्‍या कर दी है।

डेलीमेल की खबर के अनुसार, नजर मोहम्मद की बेहरमी से हत्या पर तालिबान ने कहा था कि उन्होंने वीडियो में नजर आने वाले संदिग्धों को गिरफ्तार कर लिया है और जल्द उनको तालिबान अदालत में पेश किया जाएगा। इस बयान के साथ ही उन्होंने माना था कि कंधार प्रांत के निवासी नजर की हत्या में तालिबानियों का हाथ था। उनका कहना था कि नजर मोहम्मद दोषी था लेकिन उसे तालिबान की अदालत में पेश किया जाना चाहिए था, न कि इस तरह मौत देनी चाहिए थी।

बता दें कि अफगानिस्तान के लोकप्रिय कॉमेडियन नजर मोहम्मद उर्फ खाशा की पिछले माह अपहरण के बाद हत्या की गई थी। उनकी हत्या से पहले एक वीडियो सामने आई थी जिसमें तालिबानी उन्हें गाड़ी में बैठाकर थप्पड़ मार रहे थे।

कथिततौर पर, वीडियो में दिख रहा था कि कंधारी कॉमेडियन किस तरह तालिबानियों द्वारा पकड़े जाने के बाद भी तालिबान का मजाक उड़ा रहे थे कि तभी बंदूकधारी तालिबानी उनके बगल में बैठा और उनकी बात सुनते ही उन्हें झापड़ मार दिया। इसके बाद सबकों हंसाने वाले खाशा एकदम शांत बैठ गए।

जानकारी के मुताबिक, कंधार प्रांत से ताल्लुक रखने वाले कॉमेडियन को तालिबानी मारने के लिए उनके घर से घसीटते हुए बाहर लाए थे और फिर पेड़ से बांधकर उनकी हत्या कर दी थी। खबरों के मुताबिक, आतंकी सूबे में सरकारी कर्मचारियों की तलाश में घर-घर जा रहे थे। 22 जुलाई को उन्होंने खाशा को पकड़कर एक पेड़ पर बांध दिया और उनका गला काट दिया। स्थानीय पुलिस के रूप में काम करने वाले कॉमेडियन का कटा हुआ गला जमीन पर पड़ा हुआ मिला और उनका शरीर गोलियों से भुना था।

इस हत्या के बाद मलाला युसूफजई के पिता जियाउद्दीन ने भी कंधार कॉमेडियन खाशा ज्वैन को श्रद्धांजलि दी थी। अपने ट्वीट में उन्होंने कहा था कि खाशा पूरे जीवन लोगों को हंसाते रहे, लेकिन आतंकियों ने खाशा के बच्चों को हमेशा के लिए रोने के लिए छोड़ दिया है।

उल्लेखनीय है कि खाशा ज्वैन सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते थे। उनके ह्यूमर के कारण उनकी फैन फॉलोविंग भी बहुत थी। आखिरी वीडियो की तरह कई वीडियो में उन्होंने तालिबान का मजाक बनाया था। ऐसे में किसे मालूम था कि तालिबान एक दिन उन्हें मारने से पहले ऐसी वीडियो बनाएगा जिसमें न उनके चेहरे पर हंसी होगी और न डर। उनकी आखिरी वीडियो में थप्पड़ पड़ने के बाद उनके चेहरे पर चुप्पी देखी जा सकती है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

सरकार ने Supreme court के लिए अनुशंसित 9 न्यायाधीशों के नाम राष्ट्रपति को भेजे