Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

IPL क्वालीफायर में दिल्ली कैपिटल्स रोहित शर्मा की लय गड़बड़ाने का उठाएगी फायदा

webdunia
बुधवार, 4 नवंबर 2020 (18:45 IST)
दुबई। दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (Shikhar Dhawan) ने कहा कि मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) के कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को हैमस्ट्रिंग की चोट से उबरकर वापसी करने के बाद लय हासिल करने में समय लगता है तो उनकी टीम गुरुवार को होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग क्वालीफायर में इसका फायदा उठाने की कोशिश करेगी।
 
रोहित बाएं पांव की हैमस्ट्रिंग के कारण दो सप्ताह तक नहीं खेल पाए। उन्होंने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मैच में वापसी की।
 
धवन ने पहले क्वालीफायर की पूर्व संध्या पर कहा, ‘रोहित बहुत अच्छे खिलाड़ी हैं और उन्होंने बहुत अधिक मैच नहीं खेले हैं इसलिए मुझे उनकी लय के बारे में पता नहीं है। इसका मतलब है कि हम निश्चित तौर पर इसका फायदा उठा सकते हैं।’
 
उन्होंने कहा, ‘मेरी शुभकामनाएं उसके साथ हैं लेकिन विरोधी टीम में होने के कारण हम इसका फायदा उठा सकते हैं और हम उसी हिसाब से अपनी रणनीति बनाएंगे।’रोहित को चोट के कारण ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए भारतीय टीम में नहीं चुना गया है लेकिन लंबे समय तक राष्ट्रीय टीम में उनके जोड़ीदार रहे धवन ने कहा कि वह आईपीएल की अपनी अच्छी फार्म को ऑस्ट्रेलिया में भी बरकरार रखना चाहेंगे।
 
आईपीएल में अब तक 14 पारियों में 525 रन बनाने वाले धवन ने कहा, ‘एक बार जब आप अच्छा स्कोर बनाना शुरू कर देते हो तो अगली शृंखला में उस फार्म को जारी रखना चाहते हो। मुझे ऑस्ट्रेलिया में खेलना पसंद है। वह क्रिकेट खेलने के लिए शानदार स्थान है। पिचें बहुत अच्छी होती है और मुझे उनकी गेंदबाजी खेलने में आनंद आता है।’ 
 
उन्होंने कहा, ‘यह विशेष श्रृंखला होगी क्योंकि भारतीय टीम लंबे समय बाद खेलेगी। मैं वहां अच्छा प्रदर्शन करना चाहता हूं।’
 
धवन ने लगातार लचर प्रदर्शन कर रहे अपने सलामी जोड़ीदार पृथ्वी शॉ का पक्ष भी लिया। शॉ ने पिछले 6 मैचों में 4, 0, 0, 7, 10 और 9 रन बनाए।
 
धवन ने कहा, ‘ऐसा पहली बार नहीं हुआ है जबकि किसी की फार्म गड़बड़ाई है और ऐसा आखिरी बार भी नहीं होगा। उन्हें शांतचित बने रहने की जरूरत है। ऐसा हर किसी के साथ होता है। वह अच्छी टाइमिंग से शॉट लगा रहे हैं। उन्हें सकारात्मक बने रहने और अपनी योग्यता पर विश्वास रखने की जरूरत है।’
 
धवन से पूछा गया कि क्या यह उनका आईपीएल में सर्वश्रेष्ठ सत्र है? उन्होंने कहा, ‘मैंने आईपीएल में पहली बार 500 रन नहीं बनाए हैं। मैं इससे पहले भी ऐसा कर चुका हूं। हां ऐसा पहली बार हुआ जबकि मैंने 2 शतक लगाए और दो बार शून्य पर आउट हुआ। यह मेरे लिए नया है।’

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

ऑस्ट्रेलिया के जोश हेजलवुड को भारत के साथ क्रिकेट सीरीज के पहले याद आई लाल गेंद