शंकराचार्य स्वरूपानंद के निशाने पर मोदी सरकार, दिग्विजय का दिया साथ

विकास सिंह

मंगलवार, 16 अप्रैल 2019 (14:11 IST)
भोपाल। लोकसभा चुनाव में जैसे जैसे प्रचार अभियान तेज होता जा रहा है। वैसे-वैसे धर्मगुरु भी नेताओं के समर्थन और विरोध में आने लगे हैं। द्वारिका शारदा पीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती अब खुलकर कांग्रेस के पक्ष में आ गए हैं।

शंकराचार्य ने भोपाल में मीडिया से बात करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी की कथनी और करनी में बहुत अंतर है। उन्होंने कहा कि मोदी ने पिछले चुनाव में कहा था कि गौ मांस का निर्यात बंद किया जाएगा लेकिन ऐसा कुछ हुआ नहीं। इसके उलटे सरकार ने गौ मांस काटने वाली मशीन को सब्सिडी दे रही है। इसके साथ ही अयोध्या में राम मंदिर को लेकर भी शंकराचार्य ने केंद्र की मोदी सरकार को निशाना साधा।

शंकराचार्य ने कहा कि राजनीतिक पार्टियां मंदिर के नाम का उपयोग चुनाव में करती है और चुनाव जीतने के बाद भूल जाती है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने सरकार मेम आने से पहला कहा था कि कानून बनाकर राम मंदिर बना देंगे लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

दूसरी ओर शंकराचार्य ने भोपाल से कांग्रेस उम्मीदवार दिग्विजय सिंह का समर्थन किया। शंकराचार्य ने कहा कि दिग्विजय सिंह भाजपा की चुनौती स्वीकार कर भोपाल से लड़ने को तैयार हो गए लेकिन भाजपा अभी तक उनके खिलाफ उम्मीदवार नहीं तय कर पाई है। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख अब 'सिद्धू वाणी' बिगड़ी, मुस्लिमों को लेकर दिया बड़ा बयान