क्या अटलजी की तरह नरेंद्र मोदी भी विदिशा से लड़ेंगे लोकसभा चुनाव?

विकास सिंह

बुधवार, 17 अप्रैल 2019 (11:18 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश के सियासी गलियारों में इस वक्त सबसे बड़ी चर्चा इस बात की है कि क्या अटल जी के तरह नरेंद्र मोदी भी विदिशा सीट से चुनाव लड़ सकते हैं। मंगलवार को भाजपा के प्रदेश मुख्यालय में दिन भर पार्टी के बड़े नेताओं की बैठक चलने के साथ इस सुगबुगाहट ने और जोर पकड़ लिया। मंगलवार रात प्रदेश चुनाव प्रबंध समिति की बैठक में सूबे की बाकी बची सीटों को लेकर नामों पर मंथन होने की चर्चा है।
 
इस दौरान जब मीडिया ने पार्टी के बड़े नेताओं से उम्मीदवारों के नामों के एलान में देरी पर सवाल किया तो सभी बड़े नेताओं ने एक सुर में इसे चुनावी रणनीति बताया। इस बीच एक चर्चा ने धीमे धीमे जोर पकड़ लिया कि क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुनाव लड़ने के लिए मध्यप्रदेश की विदिशा सीट का रुख कर सकते हैं।
 
विदिशा लोकसभा सीट से वर्तमान में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज सांसद है, जिन्होंने इस बार लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने का एलान पहले ही कर दिया है। विदिशा संसदीय सीट से भाजपा के संस्थापक और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी भी 1991 में लोकसभा का चुनाव लड़ चुके हैं। उस वक्त भाजपा के घोषित उम्मीदवार पूर्व मंत्री राघवजी नाम घोषित होने के बाद अटल जी के लिए पीछे हट गए थे। मध्यप्रदेश में इस वक्त भाजपा में उम्मीदवारों को लेकर जिस तरह संशय के हालत बन गए हैं। उसके बाद कुछ बड़े चेहरों को मैदान में उतार कर कांग्रेस को घेर सकती है।
 
मोदी के दूसरी सीट से लड़ने की संभावना - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अभी उत्तर प्रदेश के बनारस से सांसद है और इस बार भी अब तक केवल बनारस से ही चुनाव लड़ने का एलान किया है। 2014 में मोदी ने बनारस के साथ साथ गुजरात की वड़ोदरा सीट से भी चुनाव लड़ा था। बाद में उन्होंने वडोदरा सीट छोड़ दी थी।
 
मोदी के बनारस से चुनाव लड़ने के बाद इस वक्त बनारस से ही प्रियंका गांधी के भी चुनाव लड़ने की अटकलें लगाई जा रही है। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक प्रियंका बनारस से चुनाव लड़ने को तैयार हो गई है। ऐसे में अगर प्रियंका गांधी बनारस से चुनाव लड़ती है और सपा और बसपा का महा गठबंधन उनको अपना समर्थन देता है तो कांटे का मुकाबला हो सकता है।
 
ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बनारस के साथ किसी और सीट से भी चुनाव लड़ने की भी अटकलें लगाई जा रही है, जिसमें एक मध्यप्रदेश की विदिशा लोकसभा सीट भी हो सकती है। जहां अब तक पार्टी ने अपने उम्मीदवार के नाम का एलान नहीं किया है। इस बीच भाजपा के बड़े नेता दावा करने में जुटे हैं कि भाजपा अपने उम्मीदवारों के नाम का एलान कर लोगों को चौंका देगी। वहीं पूर्व मंत्री राघव जी पहले ही नरेंद्र मोदी को विदिशा सीट से चुनाव लड़ाने की मांग कर चुके हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख बिलासपुर लोकसभा क्षेत्र