वोटिंग से 2 दिन पहले कनिमोझी के घर आयकर छापा, मचा बवाल

बुधवार, 17 अप्रैल 2019 (09:28 IST)
थूथुकुडी। आयकर विभाग ने चुनाव आयोग की ‘स्टेटिक सर्विलांस टीम’ के अधिकारियों के साथ द्रविड़ मुनेत्र कषगम (द्रमुक) की महिला इकाई की अध्यक्ष,थूथुकुडी लोकसभा सीट से पार्टी उम्मीदवार, दिवंग नेता एम. करुणानिधि की बेटी एवं राज्यसभा सांसद एम. के. कनिमोझी के घर एवं दफ्तर पर मंगलवार रात को छापा मारा।
 
आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि आयकर विभाग ने छापे की यह कार्रवाई जिला के निर्वाचन अधिकारियों द्वारा राज्य में लोकसभा की 38 सीटों के लिए 18 अप्रैल को होने वाले मतदान के दौरान वोटरों को बांटने के लिए भारी मात्रा में पैसे रखे जाने की जानकारी देने के बाद की है।
 
सूत्रों के अनुसार आयकर विभाग 10 अधिकारियों के साथ चुनाव आयोग की ‘स्टेटिक सर्विलांस टीम’ के अधिकारी कुरिन्जी नगर स्थित उनके घर की तलाशी ले रहे हैं। आयकर विभाग के अधिकारी कनिमोझी के जिस घर एवं दफ्तर की तलाशी ले रहे हैं, उसे उन्होंने चुनाव प्रचार के लिए किराए पर लिया हुआ है। इस कार्रवाई के विरोध में भारी संख्या में द्रमुक कार्यकर्ताओं के वहां इकट्ठा होने की सूचना के बाद पुलिस ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी है।
 
18 अप्रैल को मतदान : कनिमोझी पहली बार लोकसभा चुनाव लड़ रही हैं और पार्टी ने उन्हें थूथुकुडी में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. तमिलिसाई सौंदराजन के खिलाफ चुनाव मैदान में उतारा है। उल्लेखनीय है कि तमिलनाडु में लोकसभा की 39 सीटें है, जिसमें से चुनाव आयोग ने वेल्लोर लोकसभा सीट पर होने वाले मतदान को रद्द कर दिया है। इस कारण से 18 अप्रैल को राज्य की 38 सीटों के लिए मतदान होगा। 
 
कनिमोझी ने छापे को बताया राजनीतिक साजिश : तमिलनाडु के थूथुकुडी लोकसभा सीट से द्रविड़ मुनेत्र कषगम (द्रमुक) उम्मीदवार एम. के. कनिमोझी ने मंगलवार को अपने घर एवं दफ्तर में हुई आयकर विभाग तथा चुनाव आयोग की संयुक्त कार्रवाई को राजनीतिक साजिश करार दिया है।
 
कनिमोझी ने कहा कि यह कार्रवाई इसलिए हुई है क्योंकि मैं विपक्ष में हूं। आयकर विभाग के अधिकारी हमारे घर आए और तलाशी की इजाजत मांगी। मैंने जब उनसे पूछा कि किससे पूछताछ करना चाहते हैं, तो उन्होंने जवाब दिया कि उम्मीदवार से। आगे जब मैंने पूछा कि क्या तलाशी के लिए जरूरी कागजात आपके पास हैं, तो उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। मेरे समझ में यह गैर कानूनी है।
 
उन्होंने कहा कि इसके बावजूद मैंने आयकर अधिकारियों के साथ पूरा सहयोग किया। मुझे रात साढ़े नौ बजे समन जारी कर बयान देने के लिए कहा गया था। दो घंटे की तलाशी के बाद आयकर अधिकारियों ने माना किया कि मेरे घर में कुछ भी नहीं मिला। आयकर विभाग की टीम खाली हाथ लौट गई।
 
क्या भाजपा उम्मीदवार के घर की भी तलाशी लेगी आयकर विभाग की टीम : द्रमुक की महिला इकाई की अध्यक्ष ने कहा कि आयकर छापा अलोकतांत्रिक है और द्रमुक इन धमकियों से नहीं डरेगी। उन्होंने कहा कि हम विजयी होंगे। सत्तारूढ़ दल हमारी जीत से डर गया है, इसलिए वह हमारी छवि को धूमिल करने के लिए छापा मारवा रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा उम्मीदवार तमिलिसाई सौंदराजन के घर में करोड़ों रुपये छुपा कर रखा गया है। क्या आयकर विभाग उनके घर की तलाशी लेगा? (वार्ता) 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख 3 राज्यों में मौत का तूफान, बिगड़े मौसम से मध्यप्रदेश, राजस्थान और गुजरात में 35 की मौत