बड़वानी जिले में भाजपा मंडल अध्यक्ष की हत्या का खुलासा, 7 आरोपी गिरफ्तार

गुरुवार, 31 जनवरी 2019 (20:28 IST)
बड़वानी (मप्र)। जिले में भाजपा के बलवाड़ी मंडल अध्यक्ष मनोज ठाकरे की हत्या के आरोप में पुलिस ने प्रदेश भाजपा के कथित पदाधिकारी ताराचंद राठौड़ सहित 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि पार्टी के भीतर आपसी रंजिश के कारण ताराचंद और उसके पुत्र ने ठाकरे की हत्या के लिए भाड़े के हत्यारों को 5 लाख रुपए की सुपारी दी थी।
 
जिला पुलिस अधीक्षक योगचेन डोलकर भूटिया ने गुरुवार को बताया कि ठाकरे की हत्या के आरोप में ताराचंद राठौर, उसके पुत्र विजय राठौर, अनिल डाबर, झगड़िया, कालू, नानू और दिलीप नामक 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है जबकि 3 आरोपी फिलहाल फरार हैं। पुलिस उनकी सरगर्मी से तलाश कर रही है।
 
जिला मुख्यालय से लगभग 100 किलोमीटर दूर बलवाड़ी कस्बे में 20 जनवरी को सुबह की सैर पर निकले भाजपा के मंडल अध्यक्ष मनोज ठाकरे (45) की आरोपियों ने हत्या कर दी थी। बड़वानी जिले की सेंधवा तहसील के भाजपा प्रवक्ता सुनील अग्रवाल ने बताया कि ताराचंद राठौर प्रदेश भाजपा का कार्यकारिणी सदस्य है। एसपी ने बताया कि मुख्य आरोपी ताराचंद भाजपा का पदाधिकारी है और क्षेत्र में ठाकरे के बढ़ते प्रभाव से आपसी रंजिश के कारण उसने और उसके पुत्र विजय ने ठाकरे की हत्या का षड्‍यंत्र रचा था। दोनों ने इसके लिए अनिल डाबर और भाड़े के अन्य लोगों को 5 लाख रुपए की सुपारी दी गई थी।
 
उन्होंने बताया कि भाड़े के हत्यारों में 5 लाख रुपए लेने के बाद और रुपए वसूलने और रुपयों के बंटवारे की बात को लेकर आपस में विवाद हुआ था तथा मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने आरोपी अनिल को दबोच लिया। अनिल ने पूछताछ में पुलिस के सामने मामले का खुलासा कर दिया।

भूटिया ने बताया कि 20 जनवरी को सुबह की सैर पर निकले ठाकरे पर अनिल ने टाकियापानी तिराहे के पास कुल्हाड़ी से वार किया और बड़ा पत्थर उसके मुंह पर मार दिया। ठाकरे के मरने की पुष्टि करने के बाद सभी आरोपी बाइक से फरार हो गए। आरोपियों के कब्जे से हत्या में प्रयोग की गई कुल्हाड़ी, 1 लाख रुपए नकद और 2 मोटरसाइकलें बरामद की गई हैं।
 
गौरतलब है कि मंदसौर, बड़वानी और रतलाम जिले में भाजपा से जुड़े लोगों की हत्या के लगातार सिलसिले से भाजपा ने प्रदेश में बनी नई कांग्रेस सरकार को घेरते हुए कानून एवं व्यवस्था का सवाल खड़ा किया था और प्रदेशभर में मुख्यमंत्री कमलनाथ के पुतले दहन किए थे।
 
प्रदेश के गृहमंत्री बाला बच्चन ने सोमवार को रतलाम के हत्याकांड का खुलासा होने के बाद कहा था कि पुलिस बड़वानी हत्याकांड का भी जल्द ही खुलासा कर देगी तथा दोनों हत्याकांड (रतलाम, मंदसौर) का थोड़े ही वक्त में खुलासा हो गया है और आरोपी प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तौर पर भाजपा से जुड़े हैं। प्रदेश में सत्ता परिवर्तन को भाजपा पचा नहीं पा रही है। सत्ता परिवर्तन के बाद इनका वास्तविक चरित्र सामने आ गया है। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख रोजगार के आंकड़ों पर घिरी मोदी सरकार, कांग्रेस ने बताया राष्ट्रीय त्रासदी....