Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Live : PM नरेंद्र मोदी ने किया रानी कमलापति रेलवे स्टेशन का लोकार्पण

webdunia
सोमवार, 15 नवंबर 2021 (16:05 IST)
भोपाल। भोपाल में स्टेट हैंगर से 'जनजातीय गौरव दिवस' कार्यक्रम स्थल जंबूरी मैदान में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  का मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने स्वागत किया। यहां आदिवासी कलाकारों ने पारंपरिक नृत्य के साथ उनका स्वागत किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जंबूरी मैदान मंच पर भगवान बिरसा मुंडा को नमन किया। उन्होंने इससे पहले आदिवासियों की प्रदर्शनी का अवलोकन किया। उन्होंने भाजपा के वयोवृद्ध नेता लक्ष्मीनारायण गुप्ता का सम्मान किया।


04:11 PM, 15th Nov
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रानी कमलापति रेलवे स्टेशन का लोकार्पण किया।

02:21 PM, 15th Nov
webdunia
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि 
आजादी के बाद देश में पहली बार इतने बड़े पैमाने पर पूरे देश के जनजातीय समाज की कला, संस्कृति, स्वतंत्रता आंदोलन और राष्ट्रनिर्माण में उनके योगदान को गौरव के साथ याद किया जा रहा है, उनका सम्मान किया जा रहा है। मैं आज यहां मध्य प्रदेश के जनजातीय समाज का आभार भी व्यक्त करता हूं। बीते अनेक वर्षों में निरंतर हमें आपका स्नेह, आपका विश्वास मिला है। ये स्नेह हर पल और मजबूत होता जा रहा है।

02:15 PM, 15th Nov
कार्यक्रम में शिवराज ने कहा कि पुरानी सरकारों ने सिर्फ एक परिवार को महिमामंडित किया। आदिवासियों के योगदान को षड्यंत्र से भुलाया। प्रधानमंत्री ने जनजातीय गौरव दिवस की घोषणा करके भारत माता का कर्ज उतारा है। भोपाल केवल नवाबों का इतिहास नहीं था बल्कि अफगानी लुटेरे दोस्त मोहम्मद ने गोंड रानी कमलापति को इतना परेशान किया कि उन्हें जल समाधि लेना पड़ी। पीएम मोदी ने ऐसी रानी के नाम को सम्मान देकर अभूतपूर्व काम किया है।

शिवराज ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2,400 रुपए की डीएपी में सब्सिडी देकर किसानों को सिर्फ 1,200 रुपए में दी है। पूरे मध्यप्रदेश के किसानों की ओर से आपको धन्यवाद देता हूं। कांग्रेस के नेता जहां आइफा अवॉर्ड आयोजित कर गरीबों के अधिकार का पैसा लुटाने वाले थे, वहीं दूसरी ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गरीबों को उनका अधिकार दिलाने के लिए नई योजनाएं बना रहे हैं।

अंग्रेजों के शोषण से मुक्ति दिलाने के लिए अपना बलिदान देने वाले जनजातीय गौरव भगवान बिरसा मुंडा को प्रणाम करता हूं।  एक पार्टी थी, यहां राज करती थी, उसने एक खानदान के अलावा किसी का आजादी के आंदोलन में योगदान नहीं माना लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भगवान बिरसा को यह सम्मान दिया।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

आजादी के बाद आदिवासी समाज केवल वोट बैंक के रूप में देखा गया,बोले मोदी,आदिवासियों के बारे में देश को अंधेरे में रखा