पोस्ट ग्रेजुएट पकौड़ेवाला, दुकान के कर्मचारी भी पोस्ट ग्रेजुएट...

कीर्ति राजेश चौरसिया

शुक्रवार, 28 सितम्बर 2018 (14:28 IST)
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा एक इंटरव्यू के दौरान पकौड़े तलने को रोजगार से जोड़ने के बाद उनकी विपक्ष ने काफी आलोचना की थी, लेकिन मध्यप्रदेश के रीवा का एक पकौड़ेवाला सबका ध्यान अपनी ओर खींच रहा है। 
 
दरअसल, रीवा के कलामंदिर मार्ग पर एक बड़ा पोस्टर लगा हुआ है। इसमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का भी फोटो लगा हुआ है। इसमें लिखा है- भारत सरकार की बहुदेशीय (बहुउद्देश्यीय) पकौड़ा योजना, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा वित्तीय सहायता प्राप्त। रेट प्रति पकौड़ा 10 रुपए, जीएसटी अलग। इसमें एक फोटो लगा है जिसके नीचे लिखा है पोस्ट ग्रेजुएट पकौड़ेवाला, जबकि मोदी के फोटो के नीचे लिखा है कि डिग्री का पता नहीं। 
 
इसी पोस्टर में एक सूचना भी लिखी गई है, जिसमें लिखा है कि मेरी दुकान के सारे कर्मचारी पोस्ट ग्रेजुएट हैं। कृपया पकौड़े खाकर भारत सरकार की बहुदेशीय योजना को सफल बनाएं। डिग्री होल्डर बेरोजगार साथियों से अनुरोध है कि इस योजना का लाभ उठाएं। रजिस्ट्रेशन हेतु संपर्क : प्रधानमंत्री कार्यालय नई दिल्ली।
 
हालांकि पहली नजर में यह पोस्टर किसी दुकान का न होकर राजनीतिक ज्यादा लगता है, जिसमें सीधे-सीधे प्रधानमंत्री को निशाना बनाया गया है। 
 
क्या कहा था प्रधानमंत्री ने : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एक टीवी चैनल को दिए साक्षात्कार में अर्थव्यवस्था से जुड़े एक सवाल के जवाब में ‘पकौड़ा तलने’ के रोजगार का उदाहरण दिया था। मोदी ने कहा था कि अगर आपके दफ्तर के बाहर कोई व्यक्ति पकौड़ा बेच रहा है तो क्या वह रोजगार होगा या नहीं? इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर मोदी को काफी ट्रोल भी किया गया।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING