तबलीगी जमात के चलते मध्यप्रदेश में बढ़ा कोरोना ? जमातियों के कोरोना कनेक्शन की पड़ताल

विकास सिंह

गुरुवार, 9 अप्रैल 2020 (14:13 IST)
भोपाल । मध्यप्रदेश में कोरोना को लेकर हालात दिन प्रतिदिन बेकाबू होते जा रहे है। राज्य में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या देखते ही देखते चार सौ के करीब पहुंच गई है। प्रदेश में अब तक 18 जिले कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके है, उनमें बड़े शहरों के बाद अब तेजी से छोटे शहरों के नाम भी शामिल हो रहे है। अगर प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव केसों की संख्या को देखे तो इसमें तबलीगी जमात से जुड़े हुए लोगों की संख्या बहुत अधिक है। 
 
भोपाल में अचानक से कोरोना के मामले बढ़ने का सबसे बड़ा कारण तबलीगी जमात से जुड़े हुए लोगों का एक साथ कोरोना के संक्रमण की चपेट में आना था। भोपाल में अब तक तबलीगी जमात से जुड़े हुए 20 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए है। इसके साथ राजधानी में जो 12 पुलिसकर्मी भी कोरोना की चपेट में आए है उनमें भी तबलीगी जमात के लोगों से संपर्क में आने के बाद संक्रमण फैलने का संदेह है। इसके अलावा कई अन्य ऐसे पॉजिटिव केस लगातार सामने आ रहे है जो कही न कही तबलीगी जमात से जुड़े हुए लोगों के संपर्क में आए थे। 
इसके साथ ही खरगौन में निजामुद्दीन मरकज में शामिल हुआ जमाती का पूरा परिवार ही कोरोना की चपेट में आ चुका है। खरगौन कलेक्टर गोपाल चंद्र डाड के मुताबिक तबलीगी जमात में शामिल हुए शख्स के परिवार के 8 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए है। इसके पहले जमात में शामिल हुए युवक की मां की मौत कोरोना संक्रमण के चलते हो चुकी है। 
 
इसके साथ राजधानी से सटे विदिशा जिले में अब तक जो दो मामले सामने आए है वह दोनों जामतियों से जुड़े है। बुधवार को गंजबसौदा में 8 साल की जो बच्ची कोरोना पॉजिटिव मिली है उसके घर पर दिल्ली से आई महिला जमाती रुकी थी। इसके पहले जिले के सिरोंज तहसली में जो कोरोना पॉजिटिव मिला था वह युवक भी असम से आई 10 लोगों की जमात में शामिल था। 
इसके साथ खंड़वा में एक साथ 4 जमाती कोरोना पॉजिटिव पाए गए है। जो जमाती कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे वह एक मस्जिद मे रुके हुए थे।  इसके साथ ही खड़वा में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 5 तक पहुंच गया है। जिले में जो जमाती कोरोना पॉजिटिव पाए गए है वह कर्नाटक के रहने वाले है। 
 
प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पहले ही अपील कर चुके है कि निजामुद्दीन मरकज में शामिल लोग प्रशासन को अपनी जानकारी देने के साथ जांच के सामने आए। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का साफ कहना हैं कि अगर भोपाल और इंदौर में परिस्थितियां बिगड़ी है तो उसके पीछे तबलीगी जमात से जुड़े लोगों का अचानक से बड़ी संख्या में कोरोना पॉजिटिव पाया जाना है। सीएम ने कहा भोपाल में वह पुलिसकर्मी भी कोरोना संक्रमित हो गए है जो उनको ढ़ूंढने या उनसे पूछताछ करने गए थे। भोपाल में कोरोना का जो संक्रमण बढ़ा उसका प्रमुख कारण तबलीगी जमात रही है।

इसके साथ खरगौन में तबलीगी जमात में शामिल शख्स के पूरे परिवार का कोरोना की चपेट में आना और विदिशा के सिरोंज में भी तबलीगी जमात के चलते कोरोना पहुंचा है। शिवराज ने साफ कहा कि मध्यप्रदेश में कोरोना को कंट्रोल करने में सफल हो गए होते अगर तबलीगी जमात के लोग नहीं आते है।
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख Corona Virus Live Updation : बिहार में कोविड-19 के 12 नए मामले सामने आए