महाभारत युद्ध में 18 अंक का क्या है रहस्य और क्यों 8 अंक जुड़ा है श्रीकृष्ण से?

अनिरुद्ध जोशी

मंगलवार, 17 मार्च 2020 (15:58 IST)
mystery of Lord Shri Krishna
महाभारत की घटनाओं और ज्ञान का रहस्य अभी भी बरकरार है। ऐसे में एक आश्चर्य और रहस्य आज भी बरकरार है कि आखिर महाभारत के युद्ध में जहां कृष्ण के साथ 8 अंक जुड़ा रहा वहीं इस युद्ध में 18 का अंक की समानता का रहस्य क्यों है?
 
कृष्ण और 8 का अंक : 
1.भगवान कृष्ण का जन्म आठवें अवतार के रूप में अट्ठाईसवें द्वापर में में हुआ था।
2. श्रीकृष्ण देवकी की आठवीं सन्तान थे।
3. उनका जन्म कृष्ण पक्ष की रात्रि के सात मुहूर्त निकलने के बाद आठवें मुहूर्त में अष्टमी के दिन 3112 ईसा पूर्व हुआ था। 
4. श्री कृष्ण की आठ ही पत्नियां थी।
5. श्रीकृष्ण की आठ सखियां थीं।
6. श्रीकृष्ण के सखा भी आठ ही थे।
 
महाभारत और 18 के अंक का रहस्य
1. महाभारत की पुस्तक में 18 अध्याय हैं। 
2. कृष्ण ने कुल 18 दिन तक अर्जुन को ज्ञान दिया। गीता में भी 18 अध्याय हैं।
3. कुल 18 दिन तक ही युद्ध चला।
4. कौरवों और पांडवों की सेना भी कुल 18 अक्षोहिनी सेना थी जिनमें कौरवों की 11 और पांडवों की 7 अक्षोहिनी सेना थी। 
5. इस युद्ध के प्रमुख सूत्रधार भी 18 थे। 
6. इस युद्ध में कुल 18 योद्धा ही जीवित बचे थे।
7. महाभारत लिखने वाले ऋषि वेदव्यास ने 18 पुराण भी रचे हैं।
 
सवाल यह उठता है कि सब कुछ 8 और 18 की संख्‍या में ही क्यों होता गया? क्या यह संयोग है या इसमें कोई रहस्य छिपा है?

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख हाथों में कड़ा पहनने के 3 नुकसान और 3 फायदे