अरुण यादव होंगे कांग्रेस के मुख्यमंत्री पद के दावेदार, राहुल गांधी का बड़ा ऐलान

विशेष प्रतिनिधि

शनिवार, 24 नवंबर 2018 (17:50 IST)
भोपाल। मुख्यमंत्री के चेहरे के एलान के बिना मध्यप्रदेश में चुनाव लड़ रही कांग्रेस अगर जीत हासिल करती है तो मुख्यमंत्री कौन बनेगा। इस पर अभी भी सस्पेंस बना हुआ है। कमलनाथ के चुनाव से ठीक पहले प्रदेश कांग्रेस का अध्यक्ष बनाए जाने के बाद ये कयास लगाए जा रहे हैं कि कांग्रेस अगर सत्ता में आती है तो कमलनाथ मुख्यमंत्री बनेंगे। वहीं पार्टी के युवा चेहरे और चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक अपने नेता को मुख्यमंत्री की रेस में सबसे आगे मानते हैं। 
 
अब तक कांग्रेस में कमलनाथ और सिंधिया में से किसी एक के मुख्यमंत्री बनने की बात हो रही थी, वहीं शुक्रवार को वोटिंग से ठीक पहले कांग्रेस में मुख्यमंत्री के चेहरे के रूप में एक नया नाम सामने आया है। शुक्रवार को मध्यप्रदेश के चुनावी दौरे पर आए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने अरुण यादव को इशारों ही इशारों में मुख्यमंत्री के चेहरे के रूप में प्रोजेक्ट कर दिया।
 
मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के खिलाफ चुनाव लड़ रहे अरुण यादव के समर्थन में सभा करने पहुंचे राहुल गांधी ने अपने भाषण में कांग्रेस प्रत्याशी अरुण यादव को मध्यप्रदेश का फ्यूचर का नेता बता दिया। राहुल ने सभा में अपने भाषण के दौरान मंच पर बैठे अरुण यादव की तरफ इशारा करते हुए कहा कि ये मध्यप्रदेश के फ्यूचर है, ये मध्यप्रदेश के पास्ट और फ्यूचर की लड़ाई हो रही है।
 
शिवराजसिंह चौहान मध्यप्रदेश का बीता हुआ समय है और ये (अरुण यादव) मध्यप्रदेश का भविष्य हैं तो आप 'इन्हें जिताएं, मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार लाइए' वहीं राहुल गांधी के इस ऐलान के बाद मध्यप्रदेश की सियासत फिर गरमा गई है। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस ने बुधनी से चुनाव लड़ा करके उन्हें बलि का बकरा बनाया है। प्रभात झा ने कहा कि बुधनी से एक बार फिर शिवराज सिंह चौहान जीतेंगे और कांग्रेस की जमानत जब्त हो जाएगी।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख कंप्यूटर बाबा का बड़ा बयान, बोले- संत समाज कांग्रेस के साथ