कमलनाथ का मुख्यमंत्री बनना लगभग तय, राहुल गांधी की मोहर के बाद होगा ऐलान

विशेष प्रतिनिधि

गुरुवार, 13 दिसंबर 2018 (08:56 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश में कांग्रेस की नई सरकार का नेतृत्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ही करेंगे यह लगभग अब तय हो गया है। इंतजार अब केवल राहुल गांधी की औपचारिक मोहर का है। आज शाम फिर प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाई जा सकती है। इसमें कमलनाथ के नाम का औपचारिक ऐलान हो सकता है।


वेबदुनिया को विश्वस्त सूत्रों के हवाले से खबर मिली है कि बुधवार को विधायक दल की बैठक में सभी विधायकों ने कमलनाथ को मुख्यमंत्री बनाने की मांग रखी। बैठक में कमलनाथ को प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाए जाने पर एक राय बनने के बाद पार्टी के पर्यवेक्षक एके एंटोनी के सामने एक लाइन का प्रस्ताव पास कर मुख्यमंत्री कौन बनेगा, इसका फैसला पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी पर छोड़ा गया। 
 
बुधवार शाम चार बजे कांग्रेस विधायक दल की बैठक के बाद पार्टी के पर्यवेक्षक एके एंटोनी ने चुनकर आए नए विधायकों से वन-टू-वन चर्चा भी की। पीसीसी में यह चर्चा करीब 6 घंटे तक चली। रात दस बजे तक सभी विधायकों की राय लेने के बाद पार्टी के सभी बड़े नेता दिल्ली रवाना हो गए, जो आज राहुल गांधी से मिलेंगे। 
 
कमलनाथ-सिंधिया एक साथ निकले : पीसीसी में बुधवार रात 10 बजे बैठक खत्म होने के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया एक साथ प्रदेश कार्यालय से बाहर निकले, वहीं अपने नेताओं के समर्थन में पीसीसी के बाहर खड़े कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी की।
 
कार्यकर्ताओं के हाथ में कमलनाथ और सिंधिया के पोस्टर थे तो जुबान पर जिंदाबाद के नारे। दोनों नेताओं ने भी कार्यकर्ताओं का अभिवादन स्वीकार किया। कुछ  कार्यकर्ताओं ने सिंधिया के समर्थन में जमकर नारेबाजी भी की। सिंधिया ने भी समर्थकों को निराश न करते हुए उनका अभिवादन स्वीकार किया।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख राहुल गांधी करेंगे मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री का ऐलान, इन विधायकों को मिल सकता है मंत्री पद...