मंत्रोच्चार के बीच पेश की टिकटों की दावेदारी

विशेष प्रतिनिधि

गुरुवार, 25 अक्टूबर 2018 (18:02 IST)
भोपाल। मध्यप्रदेश में भाजपा इन दिनों टिकट के दावेदारों से परेशान नजर आ रही है। बीजेपी मुख्यालय में हर दिन सैंकड़ों की संख्या में दावेदार पहुंचकर पार्टी के बड़े नेताओं के सामने अपनी दावेदारी जता रहे हैं। दावेदार इतनी बड़ी संख्या में पहुंच रहे हैं कि पार्टी के नेता परेशान दिख रहे हैं। इस बीच सागर से आए बिपिन बिहारी ने मंत्रोच्चार के बीच नेताओं के सामने अपना दावा पेश किया। 
 
कुछ ऐसा ही नजारा गुरुवार को पार्टी दफ्तर में देखने को मिला। जहां सैकड़ों में टिकट के दावेदार पहुंच रहे हैं। सागर से पंडित बिपिन बिहारी सैकड़ों समर्थकों के साथ टिकट की दावेदारी करने पहुंचे। बिपिन बिहारी सागर से टिकट की दावेदारी पार्टी संगठन के नेताओं के सामने पेश की।
 
बिपिन बिहारी का पार्टी दफ्तर में प्रवेश करना भी काफी चर्चा का विषय रहा। पंडितों के मंत्रोच्चार के बीच बिपिन बिहारी ने पार्टी दफ्तर में नेताओं के समाने अपनी दावेदारी पेश की। इसके साथ ही पार्टी के दफ्तर पहुंचने वाले कई दावेदार ऐसे भी है, जो पहले चुनाव लड़ चुके हैं।
 
छत्तीसगढ़ में पार्टी के पिछले चुनाव में हार चुके कई नेताओं को फिर से टिकट देने से मध्यप्रदेश में भी कई पूर्व विधायक टिकट के लिए पार्टी दफ्तर के चक्कर लगा रहे हैं। पूर्व मंत्री रामकृष्ण कुसमारिया, लक्ष्मीकांत शर्मा भी टिकट के लिए दावेदारी कर रहे हैं।
 
दोनों ही नेता पिछला चुनाव हार चुके हैं। लेकिन इलाके में अपने संपर्क और प्रभाव का हवाला देकर फिर से टिकट की मांग कर रहे हैं। वहीं पार्टी के बढ़ते दावेदारों से भाजपा परेशान है। गुरुवार को हालात को संभालने के लिए खुद पार्टी के संगठन महामंत्री सुहास भगत को मोर्चा संभालना पड़ा।
 
सुहास भगत एक ओर पार्टी के दावेदारों से मिलकर उनकी दावेदारी पर विचार करने की बात कह रहे हैं तो दूसरी और टिकट न मिलने पर भी पार्टी के साथ रहने की नसीहत दे रहे हैं। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख दिल्ली के MLA ने शेयर की नेहरु को किस करती लड़की की फोटो, जानिए क्या है इस फोटो की सच्चाई