अमृतसर हादसा : पटरियों से हटाए गए प्रदर्शनकारी, 40 घंटे बाद बहाल हुईं ट्रेन सेवाएं

रविवार, 21 अक्टूबर 2018 (22:40 IST)
अमृतसर। अमृतसर में दशहरे के दिन हुए ट्रेन हादसे के बाद से पटरियों पर धरना दे रहे प्रदर्शनकारियों को हटा दिया गया है और ट्रेनों का परिचालन करीब 40 घंटे बाद रविवार दोपहर बहाल हो गया। रेलवे के एक प्रवक्ता ने यह जानकारी दी।
 
 
प्रवक्ता ने बताया कि रेलवे को स्थानीय अधिकारियों से दोपहर 12.30 बजे ट्रेन सेवाएं बहाल करने की मंजूरी मिली। उत्तर रेलवे के प्रवक्ता दीपक कुमार ने बताया कि पहले मालगाड़ी को दोपहर 2 बजकर 16 मिनट पर मनावला से अमृतसर रवाना किया गया। उन्होंने बताया कि इसके बाद मेल या एक्सप्रेस ट्रेनों का आवागमन शुरू किया जाएगा।
 
फिरोजपुर मंडल के वरिष्ठ मंडलीय सुरक्षा आयुक्त (रेलवे) एस. सुधाकर ने बताया कि प्रभावित पटरी (जोड़ा फाटक) पर ट्रेन सेवाएं फिर से शुरू हो गई हैं। एक मालगाड़ी को इससे होकर गुजरने की अनुमति दी गई।
 
इससे पहले पंजाब पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को पटरी पर से हटाया, जो वहां धरना दे रहे थे। पटरी से हटाए जाने के दौरान गुस्साए प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव किया जिससे सुरक्षाकर्मियों के साथ उनकी झड़प हुई।
 
पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पथराव में पंजाब पुलिस का एक कमांडो और एक फोटो पत्रकार घायल हो गए। प्रदर्शनकारी राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी और पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे की मांग कर रहे थे।
 
अधिकारियों ने बताया कि भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पंजाब पुलिस ने कमांडो समेत अपने अन्य कर्मी तैनात किए हैं। जोड़ा फाटक इलाके में त्वरित कार्यबल (आरएएफ) के कर्मी भी मौजूद हैं। दशहरे की शाम शुक्रवार को ट्रेन हादसे में 59 लोगों की मौत होने के बाद से स्थानीय लोग घटनास्थल पर धरना प्रदर्शन कर रहे थे। वे पटरियों पर धरना दे रहे थे। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING