Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Gujarat : क्या भूपेन्द्र पटेल की ताजपोशी से नाराज हैं नितिन पटेल? राजभवन नहीं गए साथ

webdunia
रविवार, 12 सितम्बर 2021 (19:17 IST)
गांधीनगर। गुजरात के नवनियुक्त मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल के आज शाम राजभवन पहुंच कर सरकार बनाने के औपचारिक दावे के दौरान पूर्व उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल की अनुपस्थिति को लेकर इस दिग्गज नेता की नाराज़गी की अटकलें तेज़ हो गई हैं।
ALSO READ: UP : डेंगू के डंक से त्राहिमाम कर रहा है प्रदेश और AC में आराम फरमा रहे हैं एसीएमओ, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो
पहली बार के विधायक भूपेन्द्र पटेल के नाम की अचानक घोषणा से पहले जिन नामों को मुख्यमंत्री की रेस में सबसे आगे माना जा रहा था उनमें एक राज्य के सबसे अनुभवी भाजपा नेता तथा आधा दर्जन से अधिक बार विधायक और मंत्री रह चुके नितिन पटेल का नाम शामिल था। विधायक दल की बैठक से पहले उन्होंने पत्रकारों से कहा भी था कि मुख्यमंत्री एक अनुभवी विधायक को होना चाहिए। सूत्रों ने बताया कि भूपेन्द्र पटेल के नाम की घोषणा के बाद ही वे अपने गृह नगर महेसाणा रवाना हो गए। आमतौर पर मीडिया से ख़ूब बात करने वाले पटेल ने पत्रकारों से बात भी नहीं की।
ALSO READ: Live Updates : कल हो सकता है गुजरात के नए CM भूपेन्द्र पटेल का शपथ ग्रहण समारोह
इससे पहले वर्ष 2017 में जब उन्हें वित मंत्रालय का प्रभार नहीं दिया गया था तो उन्होंने लगभग खुले बग़ावती तेवर अपना लिए थे। पार्टी आलाकमान को उनके सामने झुकना पड़ा था। भूपेन्द्र पटेल कल राज्य के 17वें मुख्यमंत्री के तौर पर पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे। अब देखना यह होगा कि नितिन पटेल इसमें शामिल होते हैं या नहीं। बताया जा रहा है कि उन्हें उत्तराखंड के राज्यपाल पद का प्रस्ताव दिया गया है।
ALSO READ: गुजरात के नए CM बने भूपेन्द्र पटेल, BJP की रणनीति ने एक बार फिर चौंकाया
राजनीति के माहिर नितिन पटेल सक्रिय राजनीति में बने रहना चाहते हैं। बताया जाता है कि उनके पूर्व मुख्यमंत्री विजय रूपाणी से भी अच्छे सम्बंध नहीं थे।
webdunia

रूपाणी जहां अमित शाह के पसंदीदा थे वहीं नितिन पटेल गुजरात की राजनीति में शाह का विरोधी खेमा मानी जाने वाली  आनंदीबेन पटेल के नज़दीकी माने जाते हैं। राज्य में अगले साल होने वाले चुनाव के मद्देनज़र भाजपा पटेल की नाराज़गी की पूरी तरह अनदेखी नहीं कर सकती। (वार्ता)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Jammu and Kashmir : श्रीनगर में आतंकी की फायरिंग में सब इंस्पेक्टर शहीद, राजौरी में 1 आतंकी ढेर