K4 Missile : समुद्र की गहराई से निकलेगा भारत का 'ब्रह्मास्त्र', दहल जाएगा दुश्मन

शुक्रवार, 29 नवंबर 2019 (20:43 IST)
नई दिल्ली। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता वाली समिति ने शुक्रवार को 22 हजार 800 करोड़ रुपए के रक्षा सौदों को मंजूरी दे दी। इन सौदों से भारतीय सेना पहले से कहीं अधिक मजबूत होगी।
 
पूर्व राष्ट्रपति और 'मिसाइल मैन' के नाम से मशहूर अब्दुल कलाम के नाम पर रखी बैलेस्टिक के4 मिसाइल (K4 Missile) परीक्षण के लिए तैयार है। 2000 किलो परमाणु हथियार ले जाकर दुश्मन को तबाह करने वाली इस बैलेस्टिक K4 Missile मिसाइल को पनडुब्बी से छोड़ा जा सकता है। K4 Missile मिसाइल 12 मीटर लंबी है और इसका कुल वजन 17 टन है।
 
3500 किलोमीटर तक मार करने वाली K4 Missile मिसाइल को डीआरडीओ ने देश में ही बनाया है। इस मिसाइल की खासियत यह भी है कि वह आसानी से रडार पर नहीं आती। K4 Missile को 'अग्नि मिसाइल' नाम दिया गया है, जो मिसाइल मैन डॉ. एपीजे कलाम की आखिरी सौगात है। 
रक्षामंत्री की अध्यक्षता वाली समिति ने जिन 22 हजार 800 करोड़ रुपए के रक्षा सौदों को मंजूरी है, उसमें डबल इंजन वाले हेलिकॉप्टर, पी8आई नामक विमान भी शामिल है, जिन्हें भारत खरीदेगा। 
 
यह विमान पनडुब्बी और जहाजों को ट्रैक करने में माहिर है। अब तक इस तरह के विमान सिर्फ अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया की नौसेना के पास है। पी8आई नामक विमान सभी प्रकार के हथियारों और सुरक्षा उपकरणों से लैस हो सकता है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख 140 किलो वजनी रहकीम कार्नवाल ने करियर के दूसरे टेस्ट में 10 विकेट झटके