देश के 10 सबसे ठंडे मैदानी इलाकों में सात मध्यप्रदेश के, फिर चलेगी शीत लहर

बुधवार, 30 जनवरी 2019 (22:07 IST)
नई दिल्ली। देश के कई इलाकों में बुधवार को भी ठंड का कहर जारी रहा। कश्मीर में हुई बारिश से जम्मू कश्मीर में ठंड से कुछ राहत मिली। हालांकि मध्यप्रदेश, राजस्थान समेत देश के कई इलाकों में अभी भी कड़ाके की ठंड पड़ रही है। 
 
कश्मीर में कहीं बारिश, कहीं बर्फबारी : कश्मीर में ताजा बर्फबारी हुई है, इसके साथ ही न्यूनतम तापमान में कई डिग्री इजाफा हुआ है। मौसम विभाग ने बुधवार को यह जानकारी दी। मौसम विभाग ने बताया कि सुबह के शुरुआती घंटों में ऊंचाई वाले इलाकों में भारी बर्फबारी और मैदानी इलाकों में मध्यम स्तर की बारिश हुई।
 
मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि बारिश से लोगों को बड़ी राहत मिली क्योंकि इससे न्यूनतम तापमान कई डिग्री ऊपर आ गया। उन्होंने कहा दुनिया के दूसरे सबसे ठंडे इलाके द्रास में पारा शून्य से 30.4 डिग्री सेल्सियस नीचे था जो 12 डिग्री से ज्यादा ऊपर चढ़कर 18 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया है। लेह जिले में पारा शून्य से नीचे 7.8 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है जो बीती रात शून्य से 17.4 डिग्री सेल्सियस नीचे था।
 
अधिकारी ने कहा कि श्रीनगर में मंगलवार रात तापमान शून्य से नीचे 0.3 सेल्सियस दर्ज किया गया जो सोमवार रात के तापमान से चार डिग्री ऊपर है। 
 
दिल्ली में ठंड का कहर जारी, वायु गुणवत्ता बेहद खराब : दिल्ली में बुधवार की सुबह लोगों को ठिठुरन का सामना करना पड़ा। न्यूनतम तापमान 5.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो सामान्य से चार डिग्री कम है। सुबह साढ़े आठ बजे तक सापेक्षिक आर्द्रता का स्तर 94 फीसदी दर्ज किया गया।
 
देश के 10 सबसे ठंडे मैदानी इलाकों में सात मध्यप्रदेश के : जनवरी के अंत में मध्यप्रदेश में रोज नए रिकॉर्ड बना रही सर्दी ने आज एक नया रिकॉर्ड बनाया है। मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक देश के 10 सबसे कम तापमान वाले मैदानी स्थानों में से सात मध्यप्रदेश के हैं। राजस्थान का भीलवाड़ा का न्यूनतम तापमान आज 1.6 डिग्री सेल्सयिस दर्ज हुआ, जो देश में सबसे कम रहा।  
 
प्रदेश में आज भी खजुराहो 2.4 डिग्री सेल्सियस के साथ सबसे ठंडा बना हुआ है। इसके अलावा इस सूची में मंडला (2.6), नौगांव (2.7), उमरिया (2.8), बैतूल  (3.0), खरगोन (3.0) और मलाजखंड (3.0) शामिल हैं।
 
उत्तरी इलाकों में हुई बर्फबारी और बारिश के चलते पिछले तीन दिन से पूरा मध्यप्रदेश भीषण सर्दी की चपेट में है। राजधानी भोपाल समेत प्रदेश के चारों महानगर इंदौर, ग्वालियर और जबलपुर इन दिनों कड़कड़ाती ठंड का सामना कर रहे हैं। 
 
ठंड से अधेड़ की मौत : मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में छत पर सो रहे एक अधेड़ की ठंड लगने से मौत हो गई। अधेड़ अपनी बेटी के ससुराल एक कार्यक्रम में शामिल होने आया था। इंदार थाना पुलिस सूत्रों ने बताया कि ग्राम बिजरोनी में कल रात छत पर सो रहे एक व्यक्ति की ठंड लगने से मृत्यु हो गई। 
 
मौसम विभाग ने दी यह चेतावनी : मराठवाड़ा, विदर्भ और तेलंगाना कुछ स्थानों, मध्य प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर तथा ओडिशा, मध्यप्रदेश, मध्य महाराष्ट्र तथा छत्तीसगढ़ में अगले 24 घंटे के दौरान शीत लहर चलने की संभावना है। मौसम विभाग के अनुसार ओडिशा, मध्यप्रदेश, मध्य महाराष्ट्र, मराठवाडा, विदर्भ, छत्तीसगढ, तेलंगाना और रॉयलसीमा के कुछ स्थान इस दौरान सर्दी की चपेट में रहेंगे। 
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख भारतीय क्रिकेट टीम आजमा रही है नई ‘ब्लाइंडफोल्ड' तकनीक