ठंड का 'टार्चर' जारी, द्रास में पारा 31.4 डिग्री सेल्सियस नीचे पहुंचा, मध्यप्रदेश में भी राहत नहीं

सोमवार, 28 जनवरी 2019 (20:18 IST)
श्रीनगर। कश्मीर में 2 महीने से भी ज्यादा समय से शीतलहर का प्रकोप जारी है। इस बीच दुनिया के दूसरे सबसे ठंडे इलाके द्रास में पारा जमाव बिंदु से 31 डिग्री सेल्सियस नीचे पहुंच गया है। मौसम विभाग ने सोमवार को इसकी जानकारी दी।
 
 
मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि कारगिल जिले के द्रास इलाके में रविवार रात न्यूनतम तापमान 0 से 31.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।

जम्मू-कश्मीर के दूरस्थ इलाके में रविवार को अधिकतम तापमान 0 से नीचे 12.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। लेह जिले में बीती रात पारा गिरकर 0 से 15.9 डिग्री सेल्सियस नीचे जबकि रविवार को अधिकतम तापमान जमाव बिंदु से 2 डिग्री नीचे दर्ज किया गया।
 
अधिकारी ने कहा कि कश्मीर घाटी में तेज शीतलहर का प्रकोप जारी है। श्रीनगर में रविवार रात को न्यूनतम तापमान 0 से 3.5 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया है, जो शनिवार रात के तापमान 1.4 डिग्री सेल्सियस से 2 डिग्री कम है।

दक्षिण कश्मीर के काजीगुंड में पारा लुढ़़ककर 0 से 5 डिग्री सेल्सियस नीचे पहुंच गया है जबकि नजदीकी कोकेरनाग कस्बे में रविवार रात को तापमान 0 से नीचे 3.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। उत्तरी कश्मीर के कूपवाड़ा कस्बे में पारा 0 से 6.3 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया है, जो शनिवार रात को 0 से 6.5 डिग्री सेल्सियस नीचे था।
 
अधिकारी के मुताबिक उत्तर कश्मीर के मशहूर स्की रिजॉर्ट गुलमर्ग में रविवार रात पारा लुढ़ककर 0 से 12.6 डिग्री सेल्सियस नीचे पहुंच गया है जबकि दक्षिण कश्मीर के पर्यटक स्थल पहलगाम में तापमान 0 से 13.6 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया है।
मध्यप्रदेश में ठंड से राहत की उम्मीद नहीं : भोपाल से मिले समाचारों के अनुसार मध्यप्रदेश में लगातार 3 दिनों से पड़ रही कड़ाके की ठंड के बीच सोमवार को भी ज्यादातर हिस्सों में ठंड से राहत की उम्मीद नहीं है। मौसम विभाग ने सोमवार को आधा दर्जन से अधिक स्थानों पर शीतलहर चलने की चेतावनी दी है।
 
प्रदेश में कई स्थानों पर हल्की बारिश और ओले गिरने के बाद अब आधा दर्जन से अधिक स्थानों पर शीतलहर चलने की आशंका है। राज्य के सागर, उज्जैन, होशंगाबाद, ग्वालियर, चंबल, भोपाल, रीवा, जबलपुर और इंदौर संभाग के जिलों में तीव्र शीतलहर की आशंका व्यक्त की गई है। दूसरी तरफ सागर, जबलपुर, होशंगाबाद, भोपाल, इंदौर, रीवा, उज्जैन, शहडोल और चंबल संभाग के जिलों में दूसरे स्थानों की अपेक्षा ठंड का असर सबसे ज्यादा रहने का अनुमान है।
 
इसके अलावा ग्वालियर, उज्जैन, सागर, होशंगाबाद और रीवा संभाग में आने वाले कुछ स्थानों पर पाला पड़ने की आशंका जाहिर की गई। राज्य के पूर्वी और पश्चिमी हिस्से में आने वाले अधिकांश स्थानों पर दोनों ही तापमानों में गिरावट आने से ठंड और बढ़ गई है।
 
प्रदेश के पश्चिमी हिस्से में आने वाले दतिया में न्यूनतम तापमान 2.6, बैतूल में 3.5, शाजापुर में 4.0, गुना में 4.2, धार में 4.8, श्योपुर में 5.0 राजगढ़ में 5.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इसी तरह पूर्वी हिस्से में आने वाले जबलपुर में न्यूनतम तापमान 3.0, नौगांव में 3.1, दमोह में 4.4, रीवा में 5.1, मंडला में 5.6 और शेष स्थानों पर 7 से 8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।
 
अब आगे कैसे रहेंगे ठंड के तेवर
मौसम वैज्ञानिकों ने बताया कि मौसम का रुख अभी बदलने की उम्मीद नहीं है। आगामी 2 दिनों तक यही स्थिति बनी रह सकती है। राज्य के नरसिंहपुर, खजुराहो, सागर, टीकमगढ़, दमोह, इंदौर, धार, शाजापुर और श्योपुर में कड़ाके की ठंड का असर अभी बना रहेगा। इसके अलावा राजधानी भोपाल सहित नौगांव, बैतूल, राजगढ़, खंडवा, रतलाम व उज्जैन में भी ठंड से राहत मिलने की उम्मीद नहीं है।
 
राज्य के सभी संभागों में कुछ स्थानों पर ठंड का असर रविवार को काफी महसूस किया गया। दूसरी तरफ जबलपुर, सागर, होशंगाबाद, भोपाल, इंदौर, उज्जैन और ग्वालियर संभागों के जिलों में शीतलहर से जीवन गुजरा है। सबसे कम न्यूनतम तापमान 3 डिग्री सेल्सियस खजुराहो, नौगांव, बैतूल और दतिया में दर्ज किया गया।

राजधानी भोपाल में रविवार को न्यूनतम तापमान 6.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी के कारण अभी प्रदेश में ठिठुरन बनी हुई है।

गुजरात में दो और दिनों तक जारी रहेगी कड़कड़ाती ठंड : गुजरात में तकनीकी तौर पर शीतलहर के बिना भी कड़कड़ाती ठंड पड़ने का सिलसिला और कम से कम दो दिन तक जारी रहेगा और 30 जनवरी से एक पश्चिमी विक्षोभ के चलते अधिकतम और न्यूनतम दोनों तापमान में बढ़ोत्तरी के कारण लोगों को सर्दी से राहत मिलने की संभावना है।
 
सोमवार को राज्य भर में कम से कम आठ स्थानों पर पारा 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे रहा। नलिया 6.7 डिग्री के साथ सबसे ठंडा रहा। अहमदाबाद में न्यूनतम तापमान 8.6 डिग्री रहा जबकि डीसा में पारा 7 डिग्री तक तो गांधीनगर में 7.4 डिग्री तक लुढ़क गया।
 
वडोदरा में आज न्यूनतम तापमान 7.6 डिग्री रहा, जो इस मौसम का अब तक का न्यूनतम तापमान है। कंडला एयरपोर्ट और वलसाड़ में न्यूनतम तापमान एकसमान 9.1 डिग्री जबकि वल्लभ विद्यानगर में 9.2 डिग्री रहा।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख चिदंबरम बोले, न्यूनतम आय पर राहुल की घोषणा ऐतिहासिक, घोषणापत्र में देंगे ब्योरा