Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

जहरीली हवा से दिल्ली-NCR में हेल्थ इमरजेंसी से हालात, क्या होगा ग्रैप 4 लागू होने का असर

हमें फॉलो करें webdunia
शुक्रवार, 4 नवंबर 2022 (07:55 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली-NCR में शुक्रवार को वायू गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 500 के स्तर को पार कर गया। हवा और जहरीली होने की वजह से यहां हेल्थ इमरजेंसी से हालात बन गए। ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (ग्रैप) के चौथे चरण को लागू कर दिया गया है। दिल्ली और आसपास के जिलों में बीएस-6 को छोड़कर अन्य डीजल वाहनों पर रोक लगाई गई है। नोएडा के स्कूलों में 8 नवंबर तक ऑनलाइन पढ़ाई होगी।
 
दिल्ली NCR क्षेत्र में बच्चों, बुजुर्गों और सांस, दिल व अन्य गंभीर बीमारियों के मरीजों को बाहर न निकलने की सलाह दी गई है। ऐसे लोग अधिक से अधिक समय घर पर बिताएं।

क्या होगा ग्रैप 4 का असर : 
  • दिल्ली-एनसीआर में चार पहिया डीजल हल्के मोटर वाहनों के चलने पर प्रतिबंध; बीएस-6, आवश्यक और आपातकालीन सेवाओं के वाहनों को छूट दी गई है।
  • दिल्ली-एनसीआर में राजमार्ग, फ्लाईओवर, ओवरब्रिज, बिजली पारेषण, पाइपलाइन जैसी ‘लीनियर पब्लिक प्रोजेक्ट्स’ में निर्माण और विध्वंस कार्यों पर रोक।
  • दिल्ली में इलेक्ट्रिक और सीएनजी से चलने वाले ट्रकों के अलावा अन्य ट्रकों के प्रवेश पर प्रतिबंध, आवश्यक वस्तुओं की ढुलाई करने वाले वाहनों को छूट दी गई है।
  • एनसीआर में स्वच्छ ईंधन पर न चलने वाले सभी उद्योगों को बंद करने का आदेश दिया गया, यहां तक ​​कि उन क्षेत्रों में भी, जहां एनसीआर के लिए स्वीकृत ईंधन की मानक सूची के अनुसार ईंधन के अलावा पीएनजी बुनियादी ढांचा और आपूर्ति नहीं है। हालांकि, दूध और डेयरी इकाइयों जैसे उद्योगों और जीवन रक्षक चिकित्सा उपकरणों या यंत्रों, औषधियों और दवाओं के निर्माण में शामिल लोगों को इन प्रतिबंधों से छूट दी जाएगी।
  • राज्य सरकारें स्कूल बंद करने, गैर-आपातकालीन व्यावसायिक गतिविधियों, वाहनों के लिए सम-विषम योजना पर निर्णय लें।
  • केंद्र, राज्य सरकारें अपने कर्मचारियों के लिए वर्क फ्रॉम होम की अनुमति देने का निर्णय ले सकती हैं।
  • राजधानी में दिल्ली में पंजीकृत डीजल से चलने वाले मध्यम और भारी माल वाहनों पर प्रतिबंध। आवश्यक वस्तुओं को ले जाने और आवश्यक सेवाएं प्रदान करने वालों को छूट दी गई है।
नोएडा में ऑनलाइन पढ़ाई : राष्ट्रीय राजधानी में वायु प्रदूषण के बढ़ते स्तर के मद्देनजर उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर जिला स्थित नोएडा और ग्रेटर नोएडा के सभी विद्यालयों में आठवीं कक्षाओं तक के विद्यार्थियों के लिए अगले मंगलवार तक ऑनलाइन पढ़ाई होगी। आदेश में बाहरी गतिविधियों जैसे खेल और प्रार्थना सभा पर पूरी तरह से रोक लगाई गई है।
 
webdunia
दिल्ली में स्कूलों पर फैसला आज : दिल्ली में CAQM (कमिशन फॉर एयर क्वालिटी मैनेजमेंट) आज दोपहर 12 बजे इस बात पर फैसला होगा कि स्कूल बंद किए जाए या नहीं।
 
पंजाब में खेतों में आग के 2666 मामले : पंजाब में पंजाब खेतों में आग लगाने के सामने आए कुल 2,666 मामलों में से, संगरूर में सबसे अधिक 452 मामले सामने आए, इसके बाद बठिंडा में 336, फिरोजपुर में 269, बरनाला में 254, मानसा में 205, मोगा में 180 और पटियाला में 168 मामले हैं।
Edited by : Nrapendra Gupta (भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

इमरान पर हमले के पीछे पीएम, गृहमंत्री और मेजर जनरल फैसल का हाथ