सेना का करारा जवाब, 7 पाकिस्तानी सैनिक मार गिराए

श्रीनगर। 70वें आर्मी दिवस के अवसर पर सेना ने एलओसी पर बड़ी कार्रवाई की है। पुंछ में एलओसी के नजदीक कोटली में भारतीय सेना ने भी बड़ी कार्रवाई करते हुए 7 पाकिस्तानी सैनिकों को ढेर कर दिया है जबकि कई पाकिस्तानी सैनिक इस कार्रवाई में घायल हुए हैं।

इससे पहले सेना ने उड़ी सेक्टर में घुसपैठ कर रहे 6 आतंकियों को मार गिराया था। इससे पहले शनिवार को पाकिस्तान द्वारा एलओसी पर की गई फायरिंग में एक भारतीय जवान शहीद हो गया था जिसके जवाब में सेना ने यह कार्रवाई की है। एक वरिष्ठ आर्मी ऑफिसर ने बताया कि आर्मी ने पुंछ जिले के मेंढर सेक्टर में एलओसी के पास जगलोट एरिया में पाकिस्तान की कार्रवाई का जवाब दिया जिसका परिणाम यह रहा कि 7 पाकिस्तानी सैनिक ढेर हो गए।

इससे पहले सुरक्षाबलों ने सोमवार की तड़के उत्तरी कश्मीर में एलओसी के साथ सटे उड़ी( बारामुला) सेक्टर में घुसपैठ के एक प्रयास को नाकाम बनाते हुए जैश ए मोहम्मद के 6 आत्मघाती आतंकियों को मार गिराया। यह आतंकी 18 सितंबर 2016 को उड़ी ब्रिगेड मुख्यालय पर हुए आतंकी हमले को दोहराने के लिए आ रहे थे। इस हमले में 19 सैन्यकर्मी शहीद हो गए थे। राज्य पुलिस महानिदेशक डा एसपी वैद ने उड़ी सेक्टर में जैश के पांच आत्मघाती आतंकियों के मारे जाने की पुष्टि करते हुए बताया कि यह चारों एक बड़ा हमला करने के लिए विशेष तौर पर सरहद पार से आ रहे थे। लेकिन सेना और पुलिस के संयुक्त कार्यदल ने इन्हें एलओसी पर ही मार गिराया।


फिलहाल, पूरे इलाके में सुरक्षाबलों ने अपना अभियान जारी रखा हुआ है। सेना दिवस के मौके पर भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने एक बार फिर पाकिस्‍तान को चेताते हुए कहा कि पाकिस्‍तानी सेना घुसपैठियों की मदद करती रहती है। अगर हमें मजबूर किया गया तो और मजबूत कार्रवाई करेंगे। इसके साथ ही जनरल रावत ने सोशल मीडिया के इस्‍तेमाल को लेकर भी चेताया। उन्‍होंने कहा कि हमारे खिलाफ सोशल मीडिया का इस्‍तेमाल किया जा रहा है। इसके इस्‍तेमाल में हमें सावधानी बरतनी चाहिए। यह भी बताया कि पूर्वोत्‍तर में आतंकी गतिविधियों को बड़े पैमाने पर सीमित करने में सफलता हासिल हुई है। 
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख सेना दिवस पर कोविंद और मोदी की शुभकामनाएं