Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

मिड-डे मिल में 1500 रुपए महीना कमाने वाली बबीता ताड़े बनी KBC 11 की पहली महिला 'करोड़पति'

webdunia

वेबदुनिया न्यूज डेस्क

गुरुवार, 19 सितम्बर 2019 (22:57 IST)
मुंबई। महाराष्ट्र के अमरावती में रहने वाली और मिड-डे मील में महज 1500 रुपए मासिक वेतन पाने वाली बबीता ताड़े (Babita Tade) ने गुरुवार को 'कौन बनेगा करोड़पति' (Kaun Banega Crorepati) सीजन 11 में Rs 1 crore की राशि जीतने वाली पहली महिला बन गई हैं। सोनी टीवी पर आने वाले इस कार्यक्रम में 7 करोड़ के प्रश्न के पुछे जाने पर उन्होंने क्विट कर लिया। हालाकि जो प्रश्न उनसे पुछे गया था उसका उत्तर उन्हें सहीं दिया था। इस तरह वे KBC से 1 करोड़ रुपए जीतकर घर लौटेंगी। 
 
सरकारी स्कूल में रोजाना 450 बच्चों को 2-2 घंटे मिड-डे मील में अलग अलग तरीके से खिचड़ी खिलाने वाली कोई महिला ज्ञान के सहारे अपनी किस्मत के दरवाजे किस तरह खोल सकती है, यह बबीता ताड़े ने अमिताभ बच्चन के शो 'कौन बनेगा करोड़पति' (KBC) में सिद्ध कर दिया। KBC के सीजन 11 में करोड़पति बनने वाली बबीता दूसरी प्रतिभागी हैं। इससे पहले बिहार के सनोज राज ने 1 करोड़ के सवाल का सही जवाब दिया था। 
webdunia
बबीता का 1500 रुपए से 1 करोड़ रुपए तक का सफर : बबीता ने 2002 में एक स्कूल में मिड-डे मील‍ में सुबह और दोपहर में खिचड़ी बनाना का काम शुरू किया था। बदले में उन्हें 1500 रुपए महीने का वेतन मिलता था। चूंकि उनके पति भी स्कूल में प्यून थे लिहाजा, उन्होंने पत्नी को भी स्कूल में लगा दिया। जब बबीता ने नौकरी शुरू की थी, तब स्कूल में केवल 30 बच्चे हुआ करते थे लेकिन आज इन बच्चों की संख्या 450 हो गई है। 
 
अमिताभ ने दिया नया नाम 'खिचड़ी काकू' : सरकारी स्कूल के बच्चों को बबीता के हाथ की खिचड़ी बहुत पसंद हैं। वे रोजाना नई नई तरह की खिचड़ी बच्चों को खिलाती हैं। बच्चों का कहना था कि बबीता काकू के हाथ जैसी खिचड़ी उन्हें मम्मी भी नहीं खिलाती। अमिताभ बच्चन ने शो में बबीता को बहुत ही प्यारा सा नाम 'खिचड़ी काकू' भी दिया। 
 
7 करोड़ का सवाल : इनमें कौन से राज्य के सबसे ज्यादा राज्यपाल आगे चलकर देश के राष्ट्रपति बने?
जवाब : बिहार
webdunia
7 करोड़ के इस सवाल का बबिता ने सही जवाब दे दिया था लेकिन तब, जब उन्होंने खेल छोड़ दिया था। वो पहले भी बिहार कह रही थीं, लेकिन उन्होंने 1 करोड़ की जीती हुई रकम न गंवाने की जोखिम नहीं उठाई और गेम को क्विट कर दिया। 
 
1 करोड़ का सवाल : मुगल शासक बहादुर शाह जफर के किस दरबारी कवि ने दास्तान ए गदर लिखी। जिसमें उन्होंने 1857 के विद्रोह के अपने निजी अनुभव के बारे में लिखा है
जवाब : जहीर देहलवी (अंतिम लाइफ लाइन में आजतक की असोसिएट प्रोड्यूसर की श्वेता झा की मदद )
 
50 लाख का सवाल : इनमें से कौन लंदन में आयोजित तीनों गोलमेज सम्मेलनों में शामिल हुए थे? 
जवाब : बी आर अंबेडकर 

10 हजार जीतने के बाद सिर्फ मोबाइल की ख्वाहिश थी :
बबीता ने बताया कि उनके पूरे परिवार (पति, बेटी, बेटा) के बीच सिर्फ 1 ही मोबाइल है। यदि वे केबीसी में धनराशि जीतती हैं तो सबसे पहले एक मोबाइल फोन लेंगी। गुरुवार को 3 लाख 20 हजार रुपए जीतने के बाद शो के होस्ट अमिताभ बच्चन ने उन्हें एक ओप्पो मोबाइल फोन भेंट किया।

शिवालय बनाना चाहती हैं बबीता : उन्होंने कहा कि घर के समीप ही भगवान शिव और अन्य प्रतिमाएं पड़ी रहती हैं। यहां पर बहुत सारे पैसे वाले लोग रहते हैं लेकिन किसी ने शिव मंदिर बनाने की नहीं सोची। उन्होंने मन ही मन नि‍श्चय किया कि वह केबीसी में जीते हुए पैसों से शिवजी का मंदिर जरूर बनाएंगी। 
webdunia

कोई काम छोटा नहीं होता : केबीसी के बीच कार्यक्रम में बबीता ने कहा कि मैं भले ही ग्रेज्युएट हूं लेकिन बच्चों के लिए खिचड़ी पकाती हूं। मेरे विचार से कोई काम छोटा नहीं होता। मैं केबीसी में जीती हुई रकम के बाद भी खिचड़ी बनाने का काम नहीं छोडूंगी। हां, मुझे आगे कम्प्यूटर की पढ़ाई करनी है और बेटे-बेटी को अच्छी शिक्षा दिलानी है। मैं इस काम में अपने पति की मदद करना चाहती हूं, जिन्होंने अपने जीवन में बहुत संघर्ष किया है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

बच्चों के साथ बैठकर किया भोजन रीवा संभाग के कमिश्नर डॉ. अशोक कुमार भार्गव ने