'मन की बात' में बोले मोदी, 'खेलो इंडिया' से गरीब परिवार की प्रतिभाएं सामने आईं

रविवार, 27 जनवरी 2019 (18:01 IST)
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बच्चों और युवाओं से 'खेलो इंडिया' में भाग लेने का आह्वान करते हुए रविवार को कहा कि इससे ग्रामीण और गरीब परिवारों के बच्चों की प्रतिभाएं सामने आई हैं।
 
 
मोदी ने आकाशवाणी पर अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' के 52वें संस्करण में कहा कि इस बार के 'खेलो इंडिया' में ढेर सारे तरुण और युवा खिलाड़ी खिलकर सामने आए हैं। जनवरी महीने में पुणे में 'खेलो इंडिया यूथ गेम्स' के दूसरे संस्करण में 18 खेलों में करीब 6,000 खिलाड़ियों ने भाग लिया था और खेलों का माहौल बनेगा तो युवा देश और दुनियाभर में अपनी क्षमता का सर्वोत्तम प्रदर्शन कर पाएंगे।
 
उन्होंने कहा कि इस बार 'खेलो इंडिया' में हर राज्य के खिलाड़ियों ने अपने-अपने स्तर पर अच्छा प्रदर्शन किया है। मेडल जीतने वाले कई खिलाड़ियों का जीवन जबर्दस्त प्रेरणा देने वाला है। उन्होंने मुक्केबाजी में युवा खिलाड़ी आकाश गोरखा, अंडर-21 महिला कबड्डी टीम की कप्तान सोनाली हेलवी, 10 साल के निशानेबाज अभिनव शॉ और अक्षता बासवानी कमती का जिक्र किया और कहा कि ये सभी सामान्य परिवार के बच्चे हैं।
 
प्रधानमंत्री ने कहा कि जब हम इंडिया के निर्माण की बात कर रहे हैं तो वो युवा शक्ति के संकल्प का ही तो न्यू इंडिया है। 'खेलो इंडिया' की ये कहानियां बता रही हैं कि न्यू इंडिया के निर्माण में सिर्फ बड़े शहरों के लोगों का योगदान नहीं है बल्कि छोटे शहरों, गांवों और कस्बों से आने वाले युवाओं व बच्चों का भी बहुत बड़ा योगदान है। (वार्ता)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख 'ट्रेन 18' का नया नामकरण, 'वंदे भारत एक्सप्रेस' नाम से दिल्ली से बनारस के बीच चलेगी