पाक ने नियंत्रण रेखा पर तैनात किए अतिरिक्त सैनिक, भारत ने भी दी यह चेतावनी...

गुरुवार, 7 मार्च 2019 (07:57 IST)
नई दिल्ली। भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव के बीच रक्षा सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तान ने अफगानिस्तान से लगती सीमा से अपने अतिरिक्त सिपाहियों और सैन्य उपकरणों को हटाकर कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर विभिन्न संवेदनशील सेक्टरों में तैनात किया है।
 
इस बीच भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा पर असैन्य इलाकों को निशाना बनाने को लेकर बुधवार को पाकिस्तान को कड़ी चेतावनी जारी की है और कहा है कि उसके आगे की उकसावे की कार्रवाई या दुस्साहस के गंभीर परिणाम होंगे।
 
भारत ने चेताया, असैन्य आबादी को नहीं बनाए निशाना : सरकारी सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तान ने 155 एमएम तोपों से नौशेरा सेक्टर में अग्रिम चौकियों को निशाना बनाया जिसका जवाब भारतीय सेना ने बोफोर्स तोप से दिया। इसके बाद पाकिस्तान को चेतावनी जारी की गई। सूत्रों ने बताया कि दोनों सेनाओं के सैन्य अधिकारियों ने मंगलवार को हॉटलाइन पर बात की थी। इस दौरान भारत ने पाकिस्तान से नियंत्रण रेखा पर असैन्य आबादी को निशाना नहीं बनाने को कहा।
 
सेना ने एक बयान में कहा, 'असैन्य इलाकों को निशाना नहीं बनाने की पाकिस्तानी फौज को हमारी चेतावनी के बाद नियंत्रण रेखा पर स्थिति कुल मिलाकर अपेक्षाकृत शांत रही।'
 
बिना उकसावे के गोलीबारी कर रहा है पाकिस्तान : पाकिस्तानी फौज ने कृष्णा घाटी और सुंदरबानी में चयनित इलाकों में भारी कैलिबर के हथियारों से भारी और बिना उकसावे की गोलीबारी की और भारतीय चौकियों और असैन्य इलाकों को मोर्टार बमों से निशाना बनाया। इसका भारतीय सेना ने प्रभावी तरीके से जवाब दिया।
 
नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है। पाकिस्तान ने आगे कोई ‘उकसावे की कार्रवाई की या दुस्साहस’ किया तो उसका मुंह तोड़ तरीके से जवाब दिया जाएगा और गंभीर परिणाम होंगे।
 
भारत की ओर से 26 फरवरी को पाकिस्तान में बालाकोट के पास जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी प्रशिक्षण अड्डों पर बमबारी करने के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया।
 
सूत्रों ने बताया कि बालाकोट पर हमले के बाद, पाकिस्तान ने अफगानिस्तान से लगती अपनी सीमा से अतिरिक्त सिपाहियों और सैन्य उपकरणों को नियंत्रण रेखा के पास कई संवेदनशील सेक्टरों में अग्रिम स्थलों पर तैनात किया है। उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान ने 27 फरवरी को भारतीय सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने की नाकाम कोशिश की थी। (भाषा) 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख रेलवे भर्ती परीक्षा परिणाम में गड़बड़ी पर बवाल, रेल मंत्रालय ने इस तरह दी सफाई