मिशेल ने उगले हैं राज, मोदी ने बताई कांग्रेस के राफेल विरोध की कहानी...

बुधवार, 9 जनवरी 2019 (17:56 IST)
सोलापुर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा किए जा रहे लगातार विरोध का जवाब दिया। उन्होंने कांग्रेस के राफेल विरोधी अभियान की कहानी भी बताई।
 
मोदी ने कांग्रेस पर हमला करते हुए राफेल विमान खरीद सौदे के खिलाफ उसके अभियान पर सवाल खड़ा किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस बताए कि उसके इस अभियान के पीछे की कहानी क्या है। प्रधानमंत्री ने संकेत दिया कि अगस्तावेस्टलैंट वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले के मामले में गिरफ्तार कथित बिचौलिया क्रिस्टियन मिशेल राफेल की प्रतिद्वंद्वी कंपनी के लिए काम कर रहा था।
 
मोदी ने कहा कि कांग्रेस को यह बताना होगा कि राफेल को लेकर उसके आरोपों का आधार क्या है। प्रधानमंत्री ने संकेत दिया कि अगस्तावेस्टलैंट वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले के मामले में गिरफ्तार कथित बिचौलिया क्रिस्टियन मिशेल राफेल की प्रतिद्वंद्वी कंपनी के लिए काम कर रहा था।
 
मोदी ने मीडिया में चल रही खबरों का उल्लेख करते हुए कहा कि मिशेल ‘किसी अन्य प्रतिस्पर्धी’ की हिमायत कर रहा था। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) सरकार के दौरान बिचौलिया संस्कृति प्रणाली का हिस्सा थी। उन्होंने गरीबों का हक मारा और देश कर सुरक्षा के साथ खिलवाड़ किया।
 
मोदी ने कहा कि उसने (मिशेल ने) हैरान करने वाले खुलासे किए। मीडिया की खबरों के अनुसार, वह न सिर्फ हेलीकॉप्टर सौदे में शामिल था बल्कि पिछली सरकार के दौरान वह विमानों के सौदों में भी संलिप्त था। 
 
उन्होंने कहा कि मीडिया का कहना है कि वह किसी अन्य कंपनी के लिए भी काम कर रहा था। कांग्रेस को बताना चाहिए कि राफेल सौदे को लेकर आवाज उठा रहे उसके किस नेता के ताल्लुकात मिशेल के साथ हैं। उन्हें खर्च किए गए एक-एक पाई का हिसाब देना चाहिए। 
 
पूर्वोत्तर के लोगों को भरोसा : मोदी ने बांग्लादेश, पाकिस्तान और अफगानिस्तान से आए गैर-मुस्लिम समुदायों को भारतीय नागरिकता प्रदान करने वाले लोगों को भारत की नागरिकता में आसानी के प्रावधान वाले विधेयक के बारे में कहा कि मैं असम तथा पूर्वोत्तर के लोगों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि इस विधेयक के पारित हो जाने से उनके अधिकारों को कोई नुकसान नहीं होगा। (भाषा) 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख आगरा में मोदी बोले, सवर्ण आरक्षण बिल सबको समान अवसर देने का प्रयास