पार्टी में चल रहे हैं तुगलकी फरमान, सच कहना बगावत है तो मैं बागी हूं...

बुधवार, 21 नवंबर 2018 (19:52 IST)
चित्रकूट। भाजपा के कथित बागी नेता एवं गुजरे जमाने के मशहूर फिल्म अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा ने पार्टी आलाकमान के आदेशों को ‘तुगलकी फरमान’ की संज्ञा से नवाजते हुए बुधवार को कहा कि सच कहना अगर बगावत है तो उन्हें बागी कहलाने में कोई गुरेज नहीं है। 
 
अपना दल और आप के कार्यक्रम में शिरकत करते हुए सिन्हा ने कहा कि अभी तक भाजपा ने मुझे छोड़ा नहीं है और ना ही मैं अभी छोड़ पाया हूं, लेकिन जो कुछ पार्टी में चल रहा है, मैं उसको पचा नहीं पा रहा हूं। शीर्ष के नेताओं के साथ जो व्यवहार चल रहा है, वह पार्टी स्तर से उचित नहीं है। पार्टी में इस समय तुगलकी फरमान चल रहे हैं जिनका मैं प्रबल विरोधी हूं और अगर सच कहना बगावत है तो मैं बागी हूं।
 
उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग आरोप लगाते हैं कि शत्रुघ्न सिन्हा को मंत्री नहीं बनाया गया इसलिए वह इस तरह की हरकतें करते हैं। उन्होंने कहा कि मेरी कोई चाह नहीं है, लेकिन मैं पार्टी में तुगलकी फरमान को नहीं अपना सकता।   
 
भाजपा नेता ने आप नेता एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर हुए हमलों की निंदा करते हुए कहा कि इस तरह की घटनाएं देशवासियों के लिए कलंक है। अयोध्या के राम मंदिर मसले पर बयान देने से भाजपा नेता ने साफ इंकार कर दिया।
 
आगामी लोकसभा का चुनाव किस पार्टी से लड़ेंगे, इसके जवाब में उन्होंने फिल्मी अंदाज में ‘खामोश’ कह कर सबको मुस्कराने को विवश कर दिया। इस मौके पर आप प्रवक्ता संजय सिंह और अपना दल की पल्लवी पटेल मौजूद थीं। (वार्ता)
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING