Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

5 घंटे चली मुठभेड़, अनंतनाग में हिजबुल के 3 आतंकी ढेर

पुलवामा में ग्रेनेड हमला, ट्रक चालक की हत्या मामले में 15 हिरासत में

webdunia

सुरेश डुग्गर

बुधवार, 16 अक्टूबर 2019 (14:53 IST)
जम्मू। अनंतनाग में सुरक्षाबलों को मंगलवार देर रात आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली। जिसके बाद से सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी। बुधवार तड़के आतंकियों ने खुद को घिरा देख सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी। 5 घंटे तक चली इस मुठभेड़ में भारतीय सेना ने 3 आतंकवादियों को मार गिराया है। साथ ही अभी सर्च ऑपरेशन चल रहा है।

पुलिस ने बताया कि इस मुठभेड़ में आतंकी संगठन हिजबुल का कमांडर नासिर चादरु सहित 3 आतंकी मारे गए हैं। अभी पूरे इलाके की घेराबंदी कर तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। आतंकियों के पास से भारी मात्रा में हथियार व गोला-बारूद बरामद किया गया है। वहीं मारे गए आतंकियों की पहचान लश्कर कमांडर नासिर चदरू, जावेद फारूक और आकिब अहमद के रूप में हुई है।

दूसरी ओर दक्षिणी कश्मीर में आतंकियों ने मंगलवार को लगातार दूसरे दिन हमला किया। सोमवार को शोपियां में सेब लाद रहे ट्रक के चालक की हत्या के बाद मंगलवार शाम को पुलवामा चौक पर सुरक्षाबलों को निशाना बनाकर ग्रेनेड हमला किया। हालांकि ग्रेनेड सड़क पर गिरकर फटा नहीं। इससे किसी प्रकार का नुकसान नहीं हुआ था।
ALSO READ: जम्मू-कश्मीर में 2 मुठभेड़ों में 6 आतंकी ढेर, एक जवान भी शहीद, बंधकों को भी सुरक्षाबलों ने छुड़वाया
इस बीच शोपियां में ट्रक चालक की हत्या के बाद पुलिस ने 15 संदिग्धों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। प्रारंभिक छानबीन में पुलिस को पता चला है कि घटना में 4 आतंकी शामिल थे, जिनमें एक के पाकिस्तानी होने का शक है। बताते हैं कि 2 आतंकी ट्रक के आगे और 2 पीछे थे। घटना में आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन का हाथ बताया जा रहा है।

पुलिस के अनुसार पोस्टमार्टम के बाद ट्रक चालक का शव राजस्थान भेज दिया गया है। ज्ञात हो कि शोपियां जिले के सिंधु सरमाल इलाके में आतंकियों ने सेब लाद रहे राजस्थान नंबर के ट्रक चालक की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसके बाद ट्रक को आग लगा दी। आतंकियों ने बगीचे के मालिक की भी पिटाई की थी। चालक की शिनाख्त शरीफ खान के रूप में हुई थी। माना जा रहा है कि आतंकियों ने दहशत फैलाने के लिए हत्या की है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

अयोध्या : जानिए 106 साल पुराने विवाद का संपूर्ण घटनाक्रम सिर्फ 2 मिनट में