Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

क्‍या आप जानते हैं कौन होगी ‘टीम बजट’, जो इस बार 1 फरवरी को पेश करेगी ‘देश का आम बजट’

हमें फॉलो करें webdunia
शनिवार, 29 जनवरी 2022 (15:29 IST)
केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 1 फरवरी को देश का आम बजट पेश करेंगी। इस बजट से आम लोगों को बेहद उम्मीद है। कोरोना से जुझते हुए देश में इस बार का बजट कैसा होगा इसका सभी को इंतजार है। क्‍या महंगाई से निजात मिलेगी, रोजगार, स्‍वास्‍थ्‍य में क्‍या होगा। टैक्‍स को लेकर क्‍या नियम होंगे, घर का बजट कैसे निर्धारित होगा आदि कई सवाल लोगों के मन में हैं।

लेकिन ये सब उस टीम के हाथ में है, जो इस बार का बजट पेश करेगी। यानी फाइनेंस मिनिस्‍टर निर्मला सीतारमण की बटज टीम में कौन कौन है, यह जानना जरूरी और दिलचस्‍प होगा। आइए जानते हैं इस बार की बजट टीम में अर्थव्‍यवस्‍था के कौन कौन विशेषज्ञ निर्मला सीतारमण के साथ होंगे।

1. डॉ. टीवी सोमनाथन
डॉ. टीवी सोमनाथन वित्त मंत्रालय में एक्सपेंडिचर सेक्रेटरी हैं और इस बजट टीम का प्रमुख चेहरा हैं। सोमनाथन ने कलकत्ता विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में पीएचडी की है। वे बजट में बड़ी जिम्मेदारी को संभाल रहे हैं। सोमनाथन के जिम्मे बजट में खर्च को अंकुश में रखने की बड़ी चुनौती है। वित्त मंत्रालय के 5 सचिवों में से सबसे वरिष्ठ अधिकारी को वित्त सचिव नियुक्त किया जाता है। वर्तमान में यह जिम्मेदारी सोमनाथन संभाल रहे हैं। सोमनाथन तमिलनाडु कैडर के 1987 के आईएएस अधिकारी हैं। अब देखना है कि वे इस वित्तीय वर्ष में पूंजीगत व्यय की गणना किस प्रकार करते हैं।

2. तरुण बजाज
तरुण बजाज वित्त मंत्रालय के आर्थिक मामलों के विभाग में सचिव हैं। वे हरियाणा कैडर के 1988 बैच के आईएएस अधिकारी है। वित्त मंत्रालय में पदस्थ होने से पहले बजाज प्रधानमंत्री कार्यालय में भी अपनी सेवाएं प्रदान कर चुके हैं। वित्त मंत्रालय में काम करने के दौरान उन्होंने देश के लिए कई राहत पैकेज पर काम किया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक तीन आत्मनिर्भर भारत पैकेज को आकार देने में तरुण बजाज की भूमिका बेहद अहम रही है।

3. देबाशीष पांडा
देबाशीष पांडा वित्त मंत्रालय के वित्तीय सेवा विभाग में सचिव पद पर कार्यरत हैं। वे उत्तर प्रदेश कैडर के 1987 बैच के आईएएस अधिकारी हैं। सार्वजनिक क्षेत्र के कार्यालयों को पुनर्जीवित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। टीम का सबसे अहम हिस्सा माना जाता है। बजट में वित्तीय क्षेत्र से जुड़े छोटे-बड़े सभी ऐलान उनकी जिम्मेदारी के तहत ही आते हैं। पांडा पर वित्तीय सिस्टम की स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के साथ मिलकर काम करने की भी जिम्मेदारी है।

4. अजय सेठ
वित्त मंत्रालय में सबसे नया सदस्य होने के बावजूद आर्थिक मामलों के सचिव के पद पर तैनात अजय सेठ पर सभी की निगाहें होंगी। सेठ कर्नाटक कैडर के 1987 बैच के आईएएस अधिकारी हैं। ये निर्मला सीतारमण के सभी बजट भाषणों का मसौदा तैयार करने के प्रभारी हैं। उनका विभाग पूंजी बाजार, निवेश और बुनियादी ढांचे से संबंधित नीतियों का मुख्य विभाग भी है। सेठ के पास भारत की जीडीपी ग्रोथ को बरकरार रखने के साथ अर्थव्यवस्था में प्राइवेट कैपिटल एक्सपेंडिचर को रिवाइव करने का मुश्किल काम है।

5. तुहिन कांत पांडे
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की बजट टीम में निवेश और सार्वजनिक परिसंपत्ति प्रबंधन विभाग के सचिव तुहिन कांत पांडे का नाम भी शामिल है। वह ओडिशा कैडर के 1987 बैच के आईएएस अधिकारी हैं। उन्हें अक्टूबर 2019 में डीआईपीएएम का सचिव नियुक्त किया गया था। पांडे ने एयर इंडिया के विनिवेश में अहम भूमिका निभाई है। इस साल के बजट के बाद कई और परियोजनाएं हैं, जिनमें एलआईसी आईपीओ एक प्रमुख विनिवेश लक्ष्य है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र कोरोना वायरस से संक्रमित