Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

उत्तराखंड में बड़ा हादसा, भारी बारिश से ढहा पुल, भूस्खलन में दबे कई मकान

webdunia
शुक्रवार, 27 अगस्त 2021 (19:20 IST)
देहरादून। उत्तराखंड में लगातार भारी बारिश के कारण भूस्खलन के मलबे में एक महिला दब गई, जिसे अब तक निकाला नहीं जा सका है, इस बीच देहरादून-ऋषिकेश मार्ग पर एक पुल के क्षतिग्रस्त होने तथा राष्ट्रीय राजमार्गों सहित अनेक मार्गों पर मलबा आने और पुश्ते टूटने के कारण यातायात अवरुद्ध होने से सामान्य जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है।

प्रदेश के पिथौरागढ़ के धारचूला क्षेत्र के जोशी गांव में भारी बारिश के दौरान एक मकान पर भूस्खलन का मलबा गिरने से एक महिला उसके नीचे दब गई। धारचूला के उपजिलाधिकारी एके शुक्ला ने बताया कि गुरुवार देर रात हुई इस घटना की जानकारी मिलने के बाद 23 वर्षीय पशुपति देवी की तलाश के लिए एक टीम भेजी गई है। हालांकि महिला का अब तक पता नहीं चला है।

उन्होंने बताया कि भूस्खलन का मलबा गिरने से क्षेत्र के 13 अन्य मकान भी क्षतिग्रस्त हुए हैं। देहरादून में भारी बारिश के कारण नदी में आए ज्यादा पानी से सहस्त्रधारा-मालदेवता मार्ग भी क्षतिग्रस्त हो गया। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उसका स्थलीय निरीक्षण किया और देहरादून के जिलाधिकारी राजेश कुमार को सड़क के क्षतिग्रस्त भाग को जल्द से जल्द ठीक करने के निर्देश दिए।
webdunia

देहरादून से ऋषिकेश के रास्ते में पड़ने वाला रानी पोखरी पुल भी भारी बारिश से क्षतिग्रस्त हो गया। जाखन नदी पर बने रानीपोखरी पुल के दो स्लैब भारी बारिश से बह गए। ऋषिकेश छोर की तरफ 15 फुट का स्लैब जब सुबह बहा, उस समय उस पर तीन वाहन भी थे, जो उसी के साथ नदी में गिर गए। इनमें सवार तीन लोग मामूली रूप से घायल हुए।

मौके पर पहुंचे देहरादून के जिलाधिकारी ने बताया कि स्लैब के साथ जाखन नदी में गिरे वाहनों में से सभी सवारियों को बाहर निकाल लिया गया है। उन्होंने बताया कि लोकनिर्माण विभाग को क्षतिग्रस्त पुल पर आवाजाही बंद करने तथा मानसून खत्म होने पर जाखन नदी पर आवागमन के विकल्पों पर विचार करने के निर्देश दिए गए हैं।
ALSO READ: Weather Updates : IMD ने दी 30 अगस्त तक इन राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी
इस बीच, ऋषिकेश के नटराज चौक पर पुलिस देहरादून, हरियाणा, हिमाचल की तरफ जाने वाले यातायात को नेपाली फार्म के तिराहे की तरफ मोड़ रही है। इसके अलावा, नरेंद्र नगर से थोड़ा आगे टिहरी की तरफ जाने वाले मार्ग आगराखाल के पास टूटकर बह गया जिससे टिहरी व उत्तरकाशी का आल वेदर रोड के जरिए ऋषिकेश-देहरादून-हरिद्वार से संपर्क कट गया।

इस बीच, अत्यधिक बारिश के कारण राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 58 मलबा आने और पुश्ते टूटने से जगह-जगह क्षतिग्रस्त हो गया। टिहरी की जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव ने जनसुरक्षा की दृष्टि से उसे टिहरी जिले में तपोवन से मलेथा तक सभी वाहनों के लिए तत्काल प्रभाव से प्रतिबंधित कर दिया है।
ALSO READ: उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में हुई बारिश, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट
उन्होंने कहा कि ऋषिकेश-गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग बगडधार और हिंडोलाखाल ​सहित कई स्थानों पर बड़े-बड़े बोल्डर आने के कारण क्षतिग्रस्त हो गया है जबकि फकोट के निकट बेमुंडा और सोनी गांवों के बीच राजमार्ग का एक बड़ा हिस्सा बह गया। जिलाधिकारी ने बताया कि ऋषिकेश-बदरीनाथ राजमार्ग भी भूस्खलन से कई जगह बाधित हुआ है। पिछले कुछ दिनों से उत्तराखंड के ज्यादा स्थानों पर भारी बारिश हो रही है।(भाषा) 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

केरल में 32 हजार से ज्यादा Corona केस, 179 लोगों की मौत