Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

अवैध संबंधों के चलते हुई दीपक त्यागी की हत्या, मेरठ पुलिस ने किया खौफनाक खुलासा

हमें फॉलो करें webdunia

हिमा अग्रवाल

मंगलवार, 4 अक्टूबर 2022 (00:14 IST)
दीपक त्यागी का सिर काटने की गुत्थी का खुलासा मेरठ पुलिस ने कर दिया है। दीपक की हत्या गैर समुदाय की (मुस्लिम) शादीशुदा लड़की से अवैध संबंधों के चलते हुई है। मेरठ एसएसपी के मुताबिक खूजरी गांव के रहने वाले दीपक त्यागी के गांव की ही 19 वर्षीय विवाहिता के साथ अवैध संबंध थे। लड़की के पिता ने उन्हें पहले भी आपत्तिजनक हालत में देख लिया था और दोनों को अलग रहने की चेतावनी भी दी, लेकिन उसके बावजूद वे दोनों आपस में मिलते रहे। 

परिणाम हुआ कि प्रेमिका के अब्बू से यह सहन नहीं हुआ और उसने अपने एक साथी के साथ मिलकर तलवार से दीपक सिर तन से अलग कर दिया। पुलिस ने भले ही हत्याकांड का खुलासा कर दिया है। इस खुलासे को त्यागी समाज और दीपक के परिजन सही नहीं मान रहे हैं। वे सड़क पर जाम लगाकर बैठ गए हैं।

गत 27 सितंबर को दीपक की सिर कटी लाश मेरठ के परीक्षितगढ़ क्षेत्र में गन्ने के खेत में मिली, शरीर से सिर जुदा था। पुलिस ने सिर को ढूंढने के लिए लगभग 40 पुलिसकर्मियों की टीम लगाई जो 6 दिन से सिर ढूंढ रही थी। पुलिस ने डॉग स्कवॉड की मदद भी ली। घटनास्थल से डेढ़ किलोमीटर तक की दूरी के बाद डाग स्कवॉड रुक गया जबकि आज दीपक का सिर हत्या स्थल से सिर्फ 50 मीटर की दूरी पर एक कट्टे के अंदर बंद करके जमीन में गड़ा मिला है।

दीपक के परिजनों ने इस मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। रविवार को त्यागी समाज ने सिर बरामद करने के लिए पुलिस को 48 घंटे का अल्टीमेटम दिया था। क्षुब्ध परिजनों और ग्रामीणों के आक्रोश को देखते हुए कुछ घंटों के अंदर दीपक का सिर एक सीमेंट के खाली कट्टे में बंद करके जमीन में गाड़ दिया गया।

सिर बरामद करने के लिए गैर समुदाय की प्रेमिका के पिता से पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो उसने सच उगल दिया और दीपक का सर बरामद करा दिया। पुलिस ने लड़की के पिता फैमिद नट और उसके साथी आसिफ को हत्या में प्रयुक्त तलवार के साथ गिरफ्तार कर लिया है।

किला परीक्षितगढ़ के खूजरी गांव में पोस्टमार्टम के बाद दीपक का सिर जैसे ही घर पहुंचा तो कोहराम मच गया। त्यागी समाज ने पुलिस पर घटना का सही खुलासा न होने का आरोप लगाते ग्रामीणों के साथ खजूरी मेरठ मार्ग पर जाम लगा दिया।

सड़क जाम की सूचना मिलने पर पुलिस प्रशासन के हाथ पैर फूल गए। आनन- फानन में डिप्टी एसपी, एसडीएम मवाना, थानाध्यक्ष किला परीक्षितगढ़ जाम वाली जगह पहुंच गए और उन्होंने सड़क खाली करने के लिए कहा। जाम का नेतृत्व त्यागी समाज के नेता मांगेराम त्यागी, बॉबी त्यागी के नेतृत्व में जाम लगाया गया। मांगेराम त्यागी कुतूबपुर ने कहा त्यागी समाज हमेशा भाजपा पार्टी का वोटर रहा है लेकिन भाजपा सरकार त्यागी समाज का उत्पीड़न कर रही है।

मांगेराम त्यागी ने कहा कि इस हत्या पर समाज अब चुप नहीं बैठेगा, यह बड़ी दुखद घटना है। दीपक त्यागी के हत्या के पीछ साजिश की बू आ रही है, जिस तरह से सिर काटा गया और उसे गायब किया गया वह एक षड्यंत्र है। उन्होंने प्रश्नचिन्ह लगाते हुए कहा कि यदि कोई शरीर का हिस्सा या सिर एक सप्ताह बाद गड्‍ढे से बरामद होगा तो उसमें बदबू आने लगेगी, कीड़े पड़ जायेंगे, काटे और गाड़े जाने वाली जगह पर खून के निशान मिलेंगे।

लेकिन ऐसा कुछ नहीं मिला। सिर का कुछ नहीं बिगड़ा, जिसे देखकर ऐसा लगता है कि सिर फ्रिज में रखा गया था और उसे विदेश भेजे जाने की तैयारी थी।  PFI ने पहले ही कहा है कि 2047 में भारत को मुस्लिम राष्ट्र बना देंगे, यह उसी की तैयारी है। विदेशी फंडिंग हो रही है, आरोपी पैसे लेकर कुछ भी कर सकता है, पूर्व रिकॉर्ड देखा जा सकता है।

फिलहाल त्यागी समाज किला परीक्षितगढ़ में सड़क पर धरना देकर बैठ गया है। पुलिस-प्रशासन उनको मानने में जुटा हुआ है, पुलिस ने आरोपी फैमिद नट और उसके साथी आसिफ को जेल भेज दिया है।
Edited by : Nrapendra Gupta

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

JEE 2021 पेपर लीक मामले में CBI ने दिल्ली एयरपोर्ट से पकड़ा रूसी नागरिक, सॉफ्टवेयर किया था हैक