Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव में फिर आमने-सामने होंगे भाजपा-शिवसेना

webdunia
रविवार, 17 जून 2018 (12:53 IST)
मुंबई। महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ गठबंधन सहयोगी भाजपा और शिवसेना पालघर लोकसभा उपचुनाव के बाद एक बार फिर विधान परिषद के चुनाव में आमने-सामने खड़े हैं। विधान मंडल के ऊपरी सदन के लिए 25 जून को चुनाव होगा। यहां मुंबई स्नातक, मुंबई शिक्षक, कोंकण स्नातक और नासिक शिक्षक एसोसिएशन सीटों के लिए चुनाव होगा।
 
 
वर्तमान सदस्य दीपक सावंत (शिवसेना-मुंबई स्नातक), कपिल पाटिल (लोक भारती पार्टी-मुंबई शिक्षक), निरंजन दवखरे (राकांपा से भाजपा में आने वाले-कोंकण स्नातक) और अपूर्वा हीरे (निर्दलीय-नासिक शिक्षक) का कार्यकाल 7 जुलाई को समाप्त हो रहा है।
 
यह चुनाव इस लिहाज से महत्वपूर्ण माना जा रहा है, क्योंकि शिवसेना ने राज्य के स्वास्थ्य मंत्री दीपक सावंत को मुंबई स्नातक सीट से टिकट देने से इंकार कर दिया। वे इस सीट से 2 बार विधान पार्षद रह चुके हैं। इसके अलावा कोंकण स्नातक सीट पर भी करीबी नजरें रहेंगी, क्योंकि विधान पार्षद निरंजन दवखरे पिछले महीने राकांपा छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए थे।
 
इन 4 सीटों के लिए कुल 71 प्रत्याशी जोर-आजमाइश कर रहे हैं। सत्तारूढ़ गठबंधन कोंकण और मुंबई स्नातक सीट पर आमने-सामने है। कोंकण स्नातक सीट पर भाजपा के दवखरे का मुकाबला शिवसेना के संजय मोरे से होगा।
 
राकांपा ने नजीब मुल्ला को मैदान में उतारा है जिसका कांग्रेस और अन्य सामान विचारधारा वाले दलों ने समर्थन किया है। मुंबई स्नातक सीट पर शिवसेना के विलास पोटनिस का मुकाबला भाजपा के अमित मेहता से होगा। कांग्रेस और राकांपा ने निर्दलीय राजेन्द्र कोरडे को समर्थन दिया है। इस सीट से लोक भारती पार्टी के जलिंदर सरोडे भी मैदान में हैं।
 
मुंबई शिक्षक सीट पर शिवसेना के शिवाजी शेंडगे का मुकाबला मौजूदा विधान पार्षद कपिल पाटिल (लोक भारती) से है। पाटिल को कांग्रेस और राकांपा का समर्थन प्राप्त है जबकि भाजपा निर्दलीय प्रत्याशी अनिल देशमुख को अपना समर्थन दे रही है। नासिक शिक्षक सीट पर भाजपा के अनिकेत पाटिल का मुकाबला 23 निर्दलीय प्रत्याशी से है। राकांपा ने निर्दलीय प्रत्याशी संदीप बेडसे को अपना अपना समर्थन दिया है। (भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

नीति आयोग की बैठक में मोदी बोले, जन आकांक्षाएं पूरा करना हमारा लक्ष्य