महंगा पड़ा टिक-टॉक वीडियो, बड़ी मुश्किल से बची जान

शुक्रवार, 9 अगस्त 2019 (21:05 IST)
नीमच। नीमच में शुक्रवार को एक युवक को टिक-टॉक पर वीडियो बनाना महंगा पड़ गया और उसकी जान जाते-जाते बची।
 
इस युवक की जान उस समय आफत में फंसी, जब उसने टिक-टॉक नामक एप पर लाइक पाने के लिए उफनते नाले में छलांग लगा दी और जब वह स्‍टंट कर रहा था, तभी उसका पांव नाले पर बनी पुलिया में फंस गया। मौत कुछ सेकंड के ही फासले पर थी, मगर गनीमत रही कि जान बच गई।
 
गुर्जर समाज के बद्रीलाल गुर्जर ने बताया कि नीमच जिला मुख्‍यालय से 35 किलोमीटर दूर मनासा तहसील के ग्राम महागढ़ से निकल रहे एक उफनते नाले में शुक्रवार दोपहर 35 वर्षीय युवक पप्‍पूसिंह पिता रामसिंह कूद गया। उसका मकसद था उफनते नाले में स्‍टंट करते हुए वीडियो बनाना जिसके लिए उसने अपना मोबाइल नाले के बाहर खड़े लड़कों को पकड़ा दिया।
 
गुर्जर ने बताया कि जब वह स्‍टंट करता हुआ पानी के तेज बहाव में डूबने लगा तो तेजी से किनारे की तरफ बढ़ा, इसी दौरान उसका पांव नाले के ऊपर बनी पुलिया के नीचे लगे पाइप में फंस गया।
 
देखते ही देखते वह डूबने लगा। मौत बस चंद कदमों के फासले पर थी कि उसकी मदद के लिए चिल्‍ला-पुकार सुनकर ग्रामीण आ गए और उसे उफनते नाले से बाहर निकाला। बाहर निकालने के बाद युवक पप्पू को मनासा के सरकार अस्‍पताल ले जाया गया, जहां उसका इलाज चल रहा है।
 
इस पूरे मामले में जब हमने एडिशनल कलेक्‍टर विनय कुमार धोका से बात की तो उन्‍होंने कहा कि जान जोखिम में डालकर इस तरह के करतब करना कतई ठीक नहीं है। जिला प्रशासन लगातार गांव में यह सूचना प्रसारित करता रहा है कि उफनते नालों से दूर रहें। इस घटना के बाद गांव में रहने वाले कोटवारों को भी हिदायत दी जा रही है कि उफनते नाले में जाने से लोगों को वह रोके।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख पूर्व वित्तमंत्री अरुण जेटली एम्स में भर्ती, प्रधानमंत्री देखने पहुंचे