राजस्थान में दर्दनाक हादसा, ट्रक ने शादी में आए 30 लोगों को कुचला, 13 की मौत

राजस्थान के प्रतापगढ़ जिले में तेज गति से आ रहा एक ट्रक सड़क किनारे चल रही एक बारात में घुस गया जिससे चार बच्चों सहित 13 लोगों की मौत हो गई और 18 अन्य लोग घायल हो गए।
 
छोटी सादड़ी के डीएसपी विजय पाल सिंह संधू ने मंगलवार को बताया कि हादसा राजमार्ग 113 पर रामदेव मंदिर के निकट सोमवार रात को हुआ। बांसवाड़ा से निम्‍बाहेड़ा जा रहा ट्रक सड़क किनारे चल रही एक बारात में जा घुसा। लोगों को कुचलने के बाद ट्रक चालक कुछ ही दूरी पर ट्रक छोड़ मौके से फरार हो गया। पुलिस ने ट्रक जब्त कर लिया है।
 
नीमच जिले से लगी राजस्थान की छोटी सादड़ी तहसील में एक दर्दनाक हादसा देखने को मिला है, छोटी सादड़ी निवासी रेखा पिता रतनलाल लौहार की शादी थी, इसी दौरान बारात निकाली जा रही थी। इसमें 50 से ज्‍यादा लोग शामिल थे।

जब बारात जा रही थी, तो रामदेवरा मंदिर के समीप सामने की ओर से आ रहे एक असंतुलित ट्रक ने बारात में शामिल लोगों को कुचल दिया। घटना में 13 लोगों की मौके पर मौत हो गई है, जबकि करीब 18 से ज्‍यादा लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं।

घटना की जानकारी पर छोटी सादडी पुलिस मौके पर पहुंची, साथ ही निम्‍बाहेड़ा और नीमच पुलिस व एंबुलेंस भी मौके पर पहुंची थी, जिसके बाद सभी घायलों और मृतकों को छोटी सादड़ी चिकित्‍सालय में भर्ती कराया गया, वहीं ट्रैलर का चालक ट्रैलर छोड़ मौके से फरार हो गया। पुलिस इस पूरे घटनाक्रम की जांच कर रही है।

एनएच 113 पर चक्काजाम : दुर्घटना के बाद मंगलवार सुबह गुस्साए ग्रामीणों ने राजस्थान के प्रमुख एनएच 113 पर टायर जलाकर जाम लगा दिया इन। ग्रामीणों की मांग है कि मृतकों को 10-10 लाख रुपए मुवाअजा दिया जाए। जाम लगाए जाने के बाद प्रतापगढ़ जिले के कलेक्टर एसपी मौके पर पहुंच गए। हादसे में 13 लोगों की अकाल मौत हो गई थी और और करीब 35 लोग घायल हो गए थे। बीती रात सीएम अशोक गहलोत ने मृतकों को दो-दो लाख रुपए मुआवजे का एलान किया था, लेकिन ग्रामीण इससे संतुष्ट नहीं हुए और जाम लगा दिया। जाम के बाद हाईवे पर दोनों तरफ वाहनों की लम्बी कतार लग गई। 
 
परिवार में शादी की जगह पसरा मातम : रेखा की शादी की जितनी खुशी परिजनों व रिश्‍तेदारों को थी, वह सारी खुशी अब मातम में तब्‍दील हो चुकी है, जहां एक ओर खुशियां झूम रही थीं, अब उन्‍हीं घरों में मातम परस रहा है और न जाने कितने परिवारों के चिराग बुझ गए हैं।

कुछ दिनों पहले मनाया था यातायात सप्‍ताह : आपकों यह भी बता दें कि कुछ दिनों पहले ही पुलिस प्रशासन द्वारा यातायात सुरक्षा सप्‍ताह मनाया गया था, इस दौरान पुलिस ने लोगों को समझाईश भी दी, साथ ही लोगों को यातायात के प्रति जागरूक भी किया, लेकिन आज पुलिस की यातायात सप्‍ताह के चलते नाकामी सामने आ गई है, इस घटना से साफ जाहिर होता है कि यातायात पुलिस ने किस तरह का यातायात सप्‍ताह मनाया है।

दो जिलों की पुलिस और एंबुलेंस मौके पर : आपको बता दें कि हादसा इतना भीषण था कि छोटी सादड़ी पुलिस और अस्‍पताल की एंबुलेंस भी कम पड़ गई है, इसी कारण पुलिस ने निम्‍बाहेड़ा और नीमच से पुलिसबल व एंबुलेंस मौके पर बुलवाई। आपको यह भी बता दें कि नीमच जिले से करीब 5 पुलिस की थाना मोबाइल और करीब 5 से ज्‍यादा एंबुलेंस मौके पर पहुंची थीं, जिसके बाद सभी घायलों को छोटी सादड़ी चिकित्‍सालय पहुंचाया गया।
 
सीएम ने ट्वीट कर जताई संवेदना : चित्तौड़गढ़ प्रतापगढ़ क्षेत्र के सांसद सीपी जोशी भी छोटी सादड़ी चिकित्सालय पहुंचे। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी इस दुखद घटना पर ट्वीट किया है। घटना की जानकारी जैसे ही सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना को लगी तो उन्‍होंने तत्‍काल प्रभाव से जांच के आदेश दिए हैं। अब देखना यह है कि पुलिस प्रशासन इस बात को लेकर आगे क्‍या कार्रवाई करता है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख बांग्लादेश की सोशल मीडिया स्टार सनाई महबूब को अभद्र तस्वीरें हटाने का फरमान