Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

आक्रामक गोवा से सावधान रहना चाहेगी चेन्नइयन

webdunia
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp
share
शनिवार, 6 अक्टूबर 2018 (00:40 IST)
चेन्नई। इंडियन सुपरलीग (आईएसएल) के 5वें सीजन में शनिवार को एफसी गोवा का सामना मौजूदा विजेता चेन्नइयन एफसी से से होगा। जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में होने वाले इस मैच में गोवा की नजरें चेन्नइयन से पिछले सीजन में प्लेऑफ में मिली हार का बदला लेने पर होंगी।
 
 
पिछले सीजन में चेन्नइयन ने गोवा को सेमीफाइनल मुकाबले में मात देकर बाहर कर दिया था। वह मुकाबला काफी रोचक था और इसी तरह इस मैच के भी रोमांचक होने की पूरी संभावनाएं हैं। पिछले सीजन में चेन्नइयन ने गोवा को 4-1 के कुल स्कोर के दम पर मात दी थी। 
 
गोवा ने पूरे सीजन में शानदार प्रदर्शन किया था और तीसरा स्थान हासिल किया था। उसने लीग में पिछले सीजन सबसे ज्यादा 42 गोल किए थे। कोच सर्जियो लोबेरो की गोवा ने हालांकि 28 गोल भी खाए थे, जो निचले स्थान पर रहने वाली नॉर्थ-ईस्ट यूनाइटेड से 1 गोल ज्यादा था।
 
डिफेंस अभी भी लोबेरा की सबसे बड़ी चिंता है। पहले मैच में नॉर्थ-ईस्ट के खिलाफ 2-2 से ड्रॉ ने बता दिया था कि इस सीजन में टीम की ताकत और कमजोरियां क्या हैं। डिफेंस ने 2 गोल खाए थे तो पिछले सीजन में सबसे ज्यादा गोल करने वाले फरान कोरोमिनास ने 2 गोल किए भी थे। लोबेरा ने कहा कि एक कोच के तौर पर कई ऐसी चीजें मुझे लगी हैं, जहां काम करने की जरूरत है, लेकिन हम आक्रामक खेल खेलते आए हैं और इसे इस मैच में भी जारी रखेंगे।
 
गोवा के लिए गोलकीपिंग एक मुद्दा रहा है। इस सीजन में कोच ने लालथुमवाई राल्ते को टीम में शामिल किया है, लेकिन पिछले मैच में कोच ने मोहम्मद नवाज को उतारा था। नवाज की गलती के कारण नॉर्थ-ईस्ट यूनाइटेड मैच का पहला गोल करने में सफल रही थी। उन्होंने बॉक्स के बाहर गेंद को हाथ से पकड़ लिया था। यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या वे अपनी जगह बनाए रख पाते हैं या नहीं?
 
लोबेरा के दिमाग में यह बात साफ है कि उनकी टीम का सामना एक ऐसी टीम से है, जो डिफेंसिव तौर पर काफी मजबूत है। उन्होंने कहा कि चेन्नइनय एफसी के पास बैक में 3 विदेशी खिलाड़ी हैं। यह रणनीति पिछले सीजन में भी थी। नाम बेशक बदल गए हों लेकिन मेरा मानना है कि चेन्नइयन एक मजबूत टीम है, खासकर डिफेंसिव तौर पर।
 
वहीं मौजूदा विजेता को पहले मैच में बेंगलुरु एफसी से बेंगलुरु में एक करीबी हार का सामना करना पड़ा था। उस हार के बाद चेन्नइयन की कोशिश वापसी करने की होगी। टीम के कोच जॉन ग्रेगरी हालांकि अपनी टीम के प्रदर्शन से खुश हैं लेकिन मानते हैं कि टीम को सुधार करने की जरूरत है।
 
ग्रेगरी ने कहा कि हमने उस मैच से काफी कुछ सीखा। हमने गेंद ज्यादा समय तक अपने पास रखी, लेकिन हमें उसका सही उपयोग करने की जरूरत है। आपको जोखिम उठाने पड़ते हैं और तभी मौके बनते हैं। हम जो कर रहे थे वही करने की जरूरत है, वो भी और अच्छे से।
 
पिछले सीजन में ग्रेगरी की संतुलित शैली को भेदने में लोबेरा विफल रहे थे। ग्रेगरी चाहेंगे कि इस बार भी इस तरह की स्थिति हो और गोवा, चेन्नइयन के खेल को लेकर असमंजस में ही रहे। पिछले सीजन में दोनों टीमों ने 4 मैच खेले थे जिसमें से गोवा को सिर्फ 1 में जीत मिली थी।
 
चेन्नइयन के कोच ने कहा कि गोवा को अगर आधा मौका भी मिलता है तो वे स्कोर कर सकते हैं। हमें कोरोमिनास से सावधान रहना होगा जिन्होंने पिछले मैच में 2 गोल किए थे। हमें इस बात को सुनिश्चित करना होगा कि हम डिफेंस अच्छा करें। 

Share this Story:
  • facebook
  • twitter
  • whatsapp

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

webdunia
40 किलोमीटर लंबे जाम में फंसा रेड डी हिमालया काफिला