सेरेना विलियम्स चाहती हैं, बेटी उन पर गर्व करे...

शुक्रवार, 1 जून 2018 (12:07 IST)
पेरिस। सेरेना विलियम्स ने गुरुवार रात यहां 'फ्रेंच ओपन' में संघर्षपूर्ण जीत के बाद कहा कि वे चाहती हैं कि उनकी बेटी उन पर गर्व करे। इस 36 वर्षीय अमेरिकी खिलाड़ी ने पहला सेट गंवाने और दूसरे सेट में सर्विस टूटने के बाद वापसी की तथा ऑस्ट्रेलिया की एशलीग बर्टी को 3-6, 6-3, 6-4 से हराया।


तीन बार की फ्रेंच ओपन चैंपियन और विश्व की पूर्व नंबर एक खिलाड़ी अपने काले 'कैटशूट' में मैच खेलने के लिए उतरी थीं। वे 2017 में ऑस्ट्रेलियाई ओपन जीतने के बाद पहली बार किसी टूर्नामेंट में खेल रही हैं। पिछले साल सितंबर में उन्होंने बेटी अलेक्सिस ओलंपिया ओहनियान को जन्म दिया। इसके बाद वे खून के थक्के जमने की बीमारी से भी पीड़ित हो गई थीं।

सेरेना ने कहा, यह अविश्वसनीय है। मैं यहां खेलकर बहुत खुश हूं। मैं पहला सेट हार गई और तब मैंने सोचा कि मुझे अपनी तरफ से पूरा जोर लगाना चाहिए और इसके बाद असली सेरेना सामने आई। उन्होंने कहा, मैं कल वीनस के साथ युगल खेलने के लिए उतरूंगी।

मुझे एकल और युगल खेलने में कोई दिक्कत नहीं। मैं अपनी जी-जान लगा दूंगी। सेरेना ने कहा, यह वापसी के बाद मेरा पहला ग्रैंडस्लैम है और मैं अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना चाहती हूं। मैं एक दिन अपनी बिटिया से कहना चाहती हूं कि मैंने अपनी तरफ से सर्वश्रेष्ठ प्रयास किया था। (वार्ता) 

फोटो सौजन्‍य : टि्वटर

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख यह टीम फीफा क्वालिफाई नहीं कर पाई, लेकिन मेजबान रूस को ही चटा दी धूल