तैराकी महासंघ का खेल मंत्रालय से अभ्यास के लिए तरणताल खोलने का आग्रह

बुधवार, 20 मई 2020 (18:07 IST)
नई दिल्ली। भारतीय तैराकी महासंघ (एसएफआई) ने खेल मंत्रालय से खेल परिसरों के अंदर तरणतालों को फिर से खोलने के लिये गृह मंत्रालय से सहमति लेने का आग्रह किया है ताकि शीर्ष तैराक फिर से अभ्यास शुरू कर सकें। कोविड-19 लॉकडाउन के चौथे चरण के लिये गृह मंत्रालय के दिशानिर्देशों में खेल परिसर और स्टेडियमों को दर्शकों के बिना खोलने की अनुमति दी गई है जिससे अभ्यास शिविर फिर से शुरू करने का रास्ता साफ हो गया है। 
 
लेकिन तरणताल और जिम पहले की तरह बंद रहेंगे जिसके कारण एसएफआई को खेल मंत्री किरेन रीजीजू, भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) और भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) को पत्र लिखना पड़ा। एसएफआई महासचिव मोनाल चौकसी ने कहा, ‘स्टेडियमों और खेल परिसरों को फिर से खोलने का आदेश दिया गया है, 
 
इसलिए हमने खेल मंत्री, साइ और आईओए को पत्र लिखकर गृह मंत्रालय से आग्रह करने को कहा है जिससे कम से कम शीर्ष तैराक फिर से अभ्यास शुरू कर सकें।’ उन्होंने कहा, ‘तैराकों को तरणताल में उतरे हुए दो महीने से भी अधिक समय हो गया है।’ एसएफआई के अनुसार शीर्ष तैराकों के लिए तरणताल खोलना ‘मनोरंजन के लिए तैराकी’ जैसा नहीं है जिसे कि गृह मंत्रालय के निर्देशों में अनुमति नहीं दी गई है। 
 
चौकसी ने कहा, ‘मनोरंजन के लिए तरणताल और खिलाड़ियों के लिए तरणताल में अंतर होता है। अगर वे तैराक खेल परिसरों में बने तरणताल में अभ्यास करते हैं तो यह गृह मंत्रालय के दिशानिर्देशों के अनुरूप है।’ एसएफआई ने उन तैराकों को अभ्यास शुरू करने की अनुमति देने के लिए कहा है जिन्होंने अगले साल होने वाले तोक्यो ओलंपिक के लिए ‘बी’ क्वालीफिकेशन मानदंड हासिल किया है। इनमें वीरधवल खाड़े, श्रीहरि नटराज, कुशाग्र रावत और अद्वैत पागे शामिल हैं। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख अनुबंध नहीं मिलने के बाद कोच और चयनकर्ता मिसबाह के वाट्सएप ग्रुप से हटे आमिर और हसन