Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

असुदुद्दीन ओवैसी बोले- कयामत तक रहेगी मेरी पैदा की गई गर्मी, सर्दी का भी नहीं होगा असर

हमें फॉलो करें webdunia

हिमा अग्रवाल

गुरुवार, 3 फ़रवरी 2022 (17:43 IST)
मेरठ शहर विधानसभा क्षेत्र में AIMIM चीफ असुदुद्दीन ओवैसी अपने प्रत्याशी इमरान अंसारी के लिए डोर टू डोर जनसंपर्क करने पहुंचे। कैंपेन के दौरान मीडिया से रूबरू होते हुए उन्होंने समाजवादी पार्टी और बसपा पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि भागीदारी-भागीदारी कहकर अब तक मुस्लिमों को धोखा दिया गया है, सपा-बसपा बीजेपी से कम नहीं, जो मुस्लिम अब तक जीते वो गूंगे-बहरे बनकर बैठे रहे, लेकिन अब जवानी हिस्सेदारी के लिए कुर्बान होगी।
 
ओवैसी ने अपने चिरपरिचित अंदाज में सीएम योगी के गर्मी वाले बयान पर किया पलटवार करते हुए कहा कि उत्तरप्रदेश बीजेपी के आखिरी मुख्यमंत्री से कहना चाहूंगा जो गर्मी ओवैसी ने पैदा की है, वो कयामत तक चलेगी। उन्होंने कहा मैने जो गर्मी पैदा की है ना, किसी की गर्मी से कम होगी, ना सर्दी से।
ओवैसी ने कहा कि सपा-बसपा, बीजेपी से कम नहीं है। यह लोग चाहते हैं कि तुझ पर जवानी कुर्बान नारे लगाते रहिए और दरी बिछाते रहिए। आखिर कब तक सपा- बसपा के लिए नौजवान जवानी कुर्बान करते रहेंगे।
 
 उत्तरप्रदेश में मुख्यमंत्री के गर्मी शांत करवाने वाले बयान के बाद यहां की सियासत और गरमा गई है। AIMIM के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओवैसी भाजपा सरकार पर हमलावर होते हुए बोले कि जब भाजपा सरकार की जमीन खिसक रही है, तो गर्मी की बात कर रहे हैं। यही नहीं, उन्होंने कहा की ओवैसी ने जो गर्मी पैदा की है ना वह भाजपा की गर्मी से कम और न ही सर्दी से।
webdunia

असदुद्दीन आज मेरठ शहर विधानसभा क्षेत्र के के गोला कुआं अहमदनगर और इस्लामाबाद के इलाकों मे डोर टू डोर अभियान चलाया और प्रत्याशी के लिए वोट मांगे। इसके बाद वे किठौर विधानसभा क्षेत्र में प्रचार के लिए निकल गए। बीते कल उन्होंने हस्तिनापुर सीट के लिए जनसभा की थी।
 
मेरठ शहर विधानसभा में डोर टू डोर जनसंपर्क में उमड़ी भीड़ को देखकर लगता है कि इन्हें कोरोना का डर नही रहा है। एक दूसरे पर गिरते हुए धक्का-मुक्की में कोरोना खत्म होता है या उसका विस्तार होता है यह तो 10 फरवरी के बाद ही पता चल पाएगा।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

किसान, मजदूर, युवाओं के मान-सम्मान को बचाने का है यूपी चुनाव : अखिलेश यादव