Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

राष्ट्रपति चुने जाने के बाद जो बिडेन बोले- लोगों को बांटने नहीं, जोड़ने का काम करूंगा

webdunia
रविवार, 8 नवंबर 2020 (18:28 IST)
वॉशिंगटन। अमेरिकी इतिहास में राष्ट्रपति पद के लिए कुछ बेहद कड़े मुकाबलों में से एक में डोनाल्ड ट्रंप पर मिली ऐतिहासिक जीत के बाद निर्वाचित उप-राष्ट्रपति कमला हैरिस के साथ जश्न मनाते हुए राष्ट्रपति जो बिडेन ने कहा कि मैं लोगों को बांटने नहीं, जोड़ने का काम करूंगा। उन्होंने संकल्प व्यक्त किया कि वह सभी अमेरिकियों के राष्ट्रपति होंगे। उन्होंने गहरे तक ध्रुवीकृत हुए देश में 'विनाश के गंभीर दौर' को तत्काल खत्म किए जाने का आह्वान किया।
 
अपने गृहनगर डेलावेयर के विलमिंग्टन में शनिवार रात को मंगलवार को हुए चुनाव के नतीजों पर अनिश्चितता लगभग खत्म होने पर बिडेन (77) ने शनिवार रात जीत के बाद अपने भाषण में कहा, ‘मैं ऐसा राष्ट्रपति बनने का संकल्प लेता हूं, जो बांटने नहीं, बल्कि एकजुट करने की कोशिश करेगा, जो डेमोक्रेटिक राज्यों और रिपब्लिकन राज्यों में फर्क नहीं करेगा, बल्कि पूरे अमेरिका को एक नजर से देखेगा।’
 
राष्ट्रपति पद के लिए अपने तीसरे प्रयास में कामयाब हुए बिडेन ने अपने समर्थकों का धन्यवाद करते हुए कहा कि उन्हें ‘अमेरिका के इतिहास में सबसे व्यापक एवं सबसे विविध समुदायों’ के मत मिले।
 
बिडेन ने दर्शकों की तालियों की गड़गड़ाहट के बीच कहा, ‘आप लोगों ने मुझमें जो भरोसा दिखाया, मैं उसके लिए आपका आभारी हूं।’ बिडेन जब 20 जनवरी 2021 को पद की शपथ लेंगे तो वह सबसे उम्रदराज अमेरिकी राष्ट्रपति होंगे।
 
उन्होंने उन्हे समर्थन देने वाले करीब 7.4 करोड़ से ज्यादा मतदाताओं के संदर्भ में कहा, 'इस राष्ट्र के लोगों ने अपनी बात कही है, उन्होंने हमें स्पष्ट जीत दी, एक बड़ी जीत, एक जीत ‘हम लोगों’ के लिए।' बिडेन इससे पहले दो बार 1988 और 2008 में राष्ट्रपति पद की दौड़ में पीछे रह गए थे।
 
एक गौरवान्वित डेमोक्रेट की तरह चुनाव लड़ने का जिक्र करते हुए बिडेन ने कहा कि अब वह अमेरिकी राष्ट्रपति होंगे। उन्होंने कहा, 'मैं उनके लिए भी उतनी ही मेहनत के साथ काम करूंगा जिन्होंने मुझे वोट नहीं दिया जितना मैं उनके लिए करूंगा जिन्होंने मुझे वोट दिया।'
 
उन्होंने कहा, 'अमेरिका में विनाश के इस गंभीर दौर को खत्म करना शुरू करते हैं-यहां और अभी। डेमोक्रेट्स और रिपब्लिकन के बीच एक दूसरे से सहयोग नहीं करने की मंशा के पीछे कोई ऐसी रहस्यमयी ताकत नहीं है जो हमारे नियंत्रण से परे हो।'
 
ट्रंप ने चुनावों में अब तक अपनी हार स्वीकार नहीं की है। कोविड-19 महामारी के बावजूद रिकॉर्ड संख्या में अमेरिकियों ने इन चुनावों में मतदान किया। ट्रंप ने पेन्सिलवेनिया जैसे नतीजों के लिहाज से अहम प्रमुख राज्यों में चुनाव परिणामों के खिलाफ कई याचिकाएं दायर करने की घोषणा की है। पेन्सिलवेनिया में बिडेन का जन्म हुआ है और वहां से उन्हें 20 इलेक्टोरल वोट हासिल हुए जो जीत के लिए जरूरी 270 के आंकड़े तक पहुंचने में मददगार साबित हुए।
 
डेमोक्रेटिक नेता ने ट्रंप के मतदाताओं का भी दिल जीतने की कोशिश करते हुए कहा कि वह उनके लिए मतदान करने वाले लोगों के अलावा उन लोगों के राष्ट्रपति के तौर भी काम करेंगे, जिन्होंने उन्हें मत नहीं दिया। उन्होंने कहा, ‘मैं आज रात आपको हुई निराशा को समझता हूं। मुझे भी एक-दो बार हार झेलनी पड़ी है, लेकिन अब, आइए एक दूसरे को एक मौका दें।’
 
बिडेन ने कहा, ‘यह अमेरिका में जख्मों को भरने का समय है।’ उन्होंने कहा, ‘मैं अपने कार्यकाल में अमेरिका की आत्मा को पुन: जीवित करने, देश के मेरुदंड-मध्यम वर्ग को फिर मजबूत करने, दुनियाभर में अमेरिका का सम्मान बढ़ाने और देश के भीतर हमें एकजुट करने के लिए काम करूंगा।’
 
पहली अश्वेत और भारतीय मूल की महिला उपराष्ट्रपति निर्वाचित होकर इतिहास रचने वाली कमला हैरिस ने कहा, ‘आपने स्पष्ट संदेश दिया। आपने उम्मीद, एकता, शालीनता, विज्ञान और सत्य को चुना। आपने अमेरिका के लिए नया दिन सुनिश्चित किया।’ उन्होंने तालियों की गड़गड़ाहट और समर्थकों के शोर के बीच कहा, 'आपने जो बिडेन को राष्ट्रपति के तौर पर चुना है।'
 
कैलिफोर्निया से 56 वर्षीय सीनेटर हैरिस ने कहा, ‘इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपने किसे वोट दिया, मैं ऐसी उप राष्ट्रपति बनने की कोशिश करूंगी जैसे जो बिडेन पूर्व राष्ट्रपति (बराक) ओबामा के लिए थे- वफादार, सत्यनिष्ठ और रोज सुबह आपके और आपके परिवारों के बारे में सोचते हुए । क्योंकि अभी वास्तविक काम शुरू होना है। आपने अमेरिका के लिए नया दिन सुनिश्चित किया है।’
 
अमेरिका के हालिया इतिहास में 2020 में हुआ राष्ट्रपति पद का चुनाव सबसे बंटा हुआ चुनाव था। बिडेन ने कहा, 'हम दुश्मन नहीं हैं, हम अमेरिकी हैं।'

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

एग्जिट पोल से खुश न हो विपक्ष, राजग को प्रचंड बहुमत मिलना तय : भाजपा