Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

नई सुविधा : WhatsApp पर मैसेज कर पा सकते हैं PF अकाउंट से जुड़ी समस्या का समाधान

webdunia
मंगलवार, 13 अक्टूबर 2020 (21:25 IST)
नई दिल्ली। कर्मचारी भविष्यनिधि संगठन (EPFO) ने अपने खाताधारकों की शिकायतों के त्वरित समाधान को लेकर व्हाट्सऐप (WhatsApp) हेल्पलाइन सेवा शुरू की है।
श्रम मंत्रालय ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि यह सुविधा ईपीएफओ (EPFO) के शिकायतों के समाधान के लिए अन्य मंचों के अतिरिक्त है। इन मंचों में ईपीएफआईजीएमएस पोर्टल (ईपीएफओ के ऑनलाइन शिकायत समाधान पोर्टल), सीपीजीआरएएमएस, सोशल मीडिया मंच (फेसबुक और ट्विटर) और 24 घंटे काम करने वाला कॉल सेंटर शामिल हैं।
मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि ईपीएफओ ने अपने सदस्यों के जीवन को और ज्यादा सुगम बनाने के लिए WhatsApp आधारित हेल्पलाइन-सह-शिकायत निवारण प्रणाली की शुरुआत की है। निर्बाध पहल की श्रृंखला के अंतर्गत उठाए गए इस कदम का उद्देश्य अंशधारकों को कोविड-19 महामारी के दौरान निर्बाध और बिना व्यवधान के सेवाओं डिलिवरी सुनिश्चित करना है।
 
इस पहल के माध्यम से पीएफ खाताधारक व्यक्तिगत स्तर पर ईपीएफओ के क्षेत्रीय कार्यालयों के साथ सीधे बातचीत कर सकते हैं। अब ईपीएफओ के सभी 138 क्षेत्रीय कार्यालयों में व्हाट्सऐप हेल्पलाइन सेवाएं शुरू हो चुकी है। कोई भी संबंधित पक्ष जहां पर उनका पीएफ खाता है, उस संबंधित क्षेत्रीय कार्यालय के हेल्पलाइन नंबर पर व्हाट्सऐप संदेश के माध्यम से, ईपीएफओ से जुड़ी सेवाओं को लेकर किसी भी प्रकार की शिकायत दर्ज कर सकता है।
webdunia
सभी क्षेत्रीय कार्यालयों के व्हाट्सऐप हेल्पलाइन नंबर ईपीएफओ की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध है। ईपीएफओ के इस हेल्पलाइन का उद्देश्य, डिजिटल पहल को अपनाते हुए अंशधारकों को आत्मनिर्भर बनाना है और बिचौलियों पर उनकी निर्भरता को समाप्त करना है। शिकायतों का त्वरित समाधान सुनिश्चित करने के लिए और व्हाट्सऐप पर पूछे गए प्रश्नों का उत्तर सुनिश्चित करने के लिए प्रत्येक क्षेत्रीय कार्यालय में विशेषज्ञों की एक अलग टीम बनाई गई है।
 
इस हेल्पलाइन की शुरुआत के साथ यह काफी लोकप्रिय हो चुका है। अब तक ईपीएफओ ने व्हाट्सऐप के माध्यम से 1,64,040 से ज्यादा शिकायतों और सवालों का समाधान किया है।

व्हाट्सऐप हेल्पलाइन नंबर जारी होने के बाद फेसबुक/ट्विटर जैसे सोशल मीडिया माध्यमों पर शिकायतों/प्रश्नों में 30 प्रतिशत की कमी और ईपीएफआईजीएमएस पोर्टल (ईपीएफओ के ऑनलाइन शिकायत समाधान पोर्टल) पर 16 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई है। (भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

CSK vs SRH Score, IPL-13 : चेन्नई सुपर किंग्स ने हैदराबाद को दिया 168 रनों का लक्ष्य