क्या JNUSU अध्यक्ष आइशी घोष कर रहीं घायल होने का नाटक...जानिए वायरल तस्वीरों का पूरा सच...

सोमवार, 13 जनवरी 2020 (13:15 IST)
5 जनवरी को जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में नकाबपोश लोगों द्वारा किए गए हमले में JNUSU की अध्यक्ष आइशी घोष समेत कई छात्र घायल हुए थे। अब आइशी घोष की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया में वायरल हो रही हैं। इन तस्वीरों में कभी उनके दाएं हाथ पर प्लास्टर बंधा दिखा तो कभी बाएं हाथ पर। तस्वीरें शेयर कर दावा किया जा रहा है कि वो घायल होने का नाटक कर रही हैं। 
 
क्या है वायरल-
 
गौरव प्रधान नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा- ‘चिकित्सा के क्षेत्र में एक और सफलता। निर्दोष जेएनयूएसयू अध्यक्ष आइशी घोष। ऑड दिनों में पट्टी उसके बाएं हाथ पर होती है। ईवन दिनों में, दाएं हाथ पर। वह भी जैकेट की स्लीव्स के ऊपर।’
 


इस पोस्ट को 1300 से अधिक लोगों ने रीट्वीट किया है और दो हजार से अधिक लोगों ने लाइक किया है।
 
ऐसा ही दावा कई अन्य यूजर्स ने ट्विटर के साथ-साथ फेसबुक पर भी किया है।


 
क्या है सच-
 
जब हमने आइशी घोष की दाएं हाथ पर पट्टी वाली तस्वीर को रिवर्स सर्च किया, तो पता चला कि यह तस्वीर आइशी घोष द्वारा की गई प्रेस वार्ता की है। रिवर्स सर्च के रिजल्ट में हमें उस दिन की कई तस्वीरें मिली, जिन्हें कई मीडिया हाउस ने पब्लिश किया है। इन सभी तस्वीरों में आइशी के बाएं हाथ पर पट्टी बंधी देखी जा सकती है।
 
अब यह स्पष्ट हो जाता है कि वायरल तस्वीर, ओरिजिनल तस्वीर को फ्लिप करके बनाया गया है। दोनों तस्वीरों के बीच में देखें समानताएं-
 
1. आइशी के पट्टी बंधे हाथ के पास ग्रे मफ्लर पहने बैठा व्यक्ति
2. ग्रे मफ्लर वाले व्यक्ति के पीछे लाइनिंग हुडी पहने चश्मे वाला व्यक्ति
3. आइशी के पीछे काले रंग की जैकेट पहना व्यक्ति
 
बता दें कि मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी फ्लिप्ड तस्वीरों का शिकार हो चुके हैं।


 
वेबदुनिया की पड़ताल में पाया गया है कि लोगों को भ्रमित करने के लिए ओरिजिनल तस्वीर को फ्लिप करके शेयर किया जा रहा है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख दुनिया के नंबर 1 बैडमिंटन खिलाड़ी मोमोटा दुर्घटना में घायल
विज्ञापन
Traveling to UK? Check MOT of car before you buy or Lease with checkmot.com®