Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

मंगल का राशि परिवर्तन : मेष से लेकर मीन तक क्या होगा 12 राशियों पर असर

हमें फॉलो करें webdunia
सोमवार, 14 मार्च 2022 (13:06 IST)
Mars Transit in Kubha: 26 फरवरी को मंगल ने मकर में किया था प्रवेश जो अब 7 अप्रैल को मंगल का शनि की राशि कुंभ में होगा प्रवेश, जहां वह 17 मई 2022 तक रहेगा। मंगल ग्रह का शनि की मकर राशि से निकलकर शनि की कुंभ राशि में परिवर्तन करने से क्या होगा मेष से लेकर मीन राशि तक प्रभाव, आओ जानते हैं।
 
 
मंगल का कुंभ राशि में प्रवेश (Mangal grah ka Kumbha rashi mein pravesh):
 
 
1. मेष राशि (Aries): आपकी राशि में मंगल ग्यारहवें भाव में गोचर करेगा। यह गोचर आपको नौकरी में पदोन्नति के योग बना रहा है। व्यापार में विशेष फल प्रदान होगा। आर्थिक स्थिति को और मजबूत करेगा। परिवारिक सदस्य और रिश्तेदारों के साथ संबंध में सुधार होगा। लंबी यात्रा के योग है।
 
2. वृषभ राशि (Taurus): आपकी राशि के दसवें भाव में मंगल का गोचर होगा। यह गोचर आपको नौकरी में नाम और प्रसिद्ध दिलाएगा। करियर और व्यापार में ऊंचाइयों पर ले जाएगा। परिवार में थोड़ी बहुत चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। आर्थिक स्थिति मजबूत होगी।
 
3. मिथुन राशि (Gemini): आपकी राशि के नौवें भाव में मंगल गोचर करेगा। आप धन के नए स्रोत बनाने में सफल होंगे, जिसके चलते आपकी आय में बढ़ोतरी होगी। नौकरी और व्यापार दोनों के लिए यह गोचर शुभ है। भूमि या भवन में निवेश कर सकते हैं। पिता के साथ संबंध बनाकर रखें और उनकी सेहत का ध्यान रखें।
 
4. कर्क राशि (Cancer): आपकी राशि के आठवें भाव में मंगल का गोचर होगा। इस गौचर के चलते कार्य स्थल पर किसी सहकर्मी से वाद विवाद हो सकता है। व्यापार में जोखिम उठाने से बचे, नुकसान हो सकता है। निजी जीवन में परेशानी खड़ी हो सकती है यानी कि परिवार में किसी से मनमुटाव हो सकता है। घटना और दुर्घटना से बचकर रहें।
 
5. सिंह राशि (Leo): आपकी राशि के सातवें भाव में मंगल का गोचर होगा। नौकरी में पदोन्नति के योग हैं और साझेदारी के व्यापार में लाभ प्राप्त कर सकते हैं। हालांकि जीवनसाथी के साथ संबंधों में कुछ परेशानी संभव है। संबंधों को लेकर आप सतर्क रहें।
 
6. कन्या राशि (Virgo): आपकी राशि के छठे भाव में मंगल का गोचर होगा। आपके शत्रु पराजित होंगे। रोग से छुटकारा पा सकते हैं। हालांकि आर्थिक रूप से यह गोचर कोई लाभ नहीं देने वाला है। जीवनसाथी की सेहत बिगड़ सकती है। आपके लिए यह गोचर मिलेजुले परिणाम वाला रहेगा।
webdunia
7. तुला राशि (Libra): आपकी राशि के पांचवें भाव में मंगल का गोचर होगा। करियर के क्षेत्र में उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकते हैं। कार्य स्थल पर आपको सतर्क रहने की जरूरत है। आपकी छवि खराब करने के प्रयास हो सकते हैं। व्यापार में जोखिम उठाने का प्रयास न करें। निजी जीवन में भी समस्या खड़ी हो सकती है। धोखे से बचकर रहें।
 
8. वृश्चिक राशि (Scorpio): आपकी राशि में मंगल चौथे भाव में गोचर करेगा। आपके लिए यह गोचर मिश्रित परिणाम वाला रहेगा। आपके स्वभाव में आक्रमकता के चलते बनते कार्य बिगड़ जाएंगे। परिवार, मित्र और रिश्तेदारों से संबंध खराब हो सकते हैं। संतान पक्ष संबंधी परेशानी भी खड़ी हो सकती है। सेहत का भी ध्यान रखना होगा।
 
9. धनु राशि (Sagittarius): आपकी राशि में मंगल तीसरे भाव में गोचर करेगा। आपको भाई-बहनों का सहयोग मिलेगा। व्यापार में लाभ और उन्नति के योग बन रहे हैं। नौकरी में भी सकारात्मक माहौल देखने को मिलेगा। आर्थिक रूप से आप मजबूत होंगे। जीवनसाथी के साथ आपके संबंध पहले से अच्छे रहेंगे।
 
10. मकर राशि (Capricorn): आपकी राशि के मंगल दूसरे भाव में रहेगा। दौरान आपके घर-परिवार में तनावपूर्ण माहौल बन सकता है। आपके स्वभाव में क्रोध की बढ़ोतरी हो सकती है। हालांकि आपका आर्थिक पक्ष सही रहेगा। निवेश को लेकर सावधानी बरतें। वाहन चलाने में सावधानी रखें। चोट या दुर्घटना का शिकार हो सकते हैं।
 
11. कुंभ राशि (Aquarius): आपकी राशि में मंगल प्रथम भाव में गोचर करेगा। इस गोचर से आपके व्यवहार में चिड़चिड़ापन और जिद्दिपन शामिल हो जाएगा। हालांकि करियर और नौकरी के लिहाज से यह गोचर अनुकूल है। अटके कार्य पूर्ण होंगे। व्यापार में नया कार्य करने के बजाय अटके कार्य पर ही ध्यान दें। आर्थिक जीवन सामान्य रहेगा।
 
12. मीन राशि (Pisces): आपकी राशि में मंगल बारहवें भाव में गोचर करेगा। यह गोचर अधिक अनुकल नहीं रहने वाला है। आपके ख़र्चों में अप्रकाशित वृद्धि हो सकती है। पारिवारिक जीवन में अशांत रहने की संभावना है। नौकरी में सतर्क रहने की जरूरत है और व्यापार में किसी भी प्रकार का जोखिम न उठाएं।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

खाटू श्याम की आरती : ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे