पुरानी साड़ियों से डिजाइनर क्लॉथ बनाकर जीते 20 लाख

मुंबई, 1 फरवरी, 2019: डिजाइनर पूर्णिमा पांडे और स्टेफानो फनारी के कलेक्शन "आई वाज़ ए साड़ी" को 'सर्कुलर डिज़ाइन चैलेंज अवार्ड 2019” का विजेता घोषित किया गया। विजेताओं को पुरस्कार राशि के रूप में 20 लाख रुपए और आगामी लक्मे फैशन वीक विंटर फेस्टिवल 2019 में अपने क्लेक्शन को शोकेस करने का मौका मिलेगा।


पर्यावरण पर फैशन एवं टैक्सटाइल उद्योग के प्रभाव को कम करने और भारतीय फैशन और वस्त्र उद्योग में एनवायरमेंट चैंपियंस ऑफ टूमॉरो (environmental champions of tomorrow) को बढ़ावा देने के मकसद से इस चैलेंज का आयोजन किया गया था। पुरस्कार राशि का चेक रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के पॉलीस्टर बिज़नेस CMO गुंजन शर्मा ने गुरूवार रात को आयोजित कार्यक्रम में विजेताओं को सौंपा।


रिलायंस के ब्रांड R-Elan ने Fashion for Earth के नाम से एक पहल शुरू की थी। इसी पहल के हिस्से के रूप में संयुक्त राष्ट्र (UN) और लक्मे फैशन वीक के साथ मिल कर “सर्कुलर डिज़ाइन चैलेंज” शुरू किया गया। चैलेंज में भारत के 30 से अधिक शहरों से 900 प्रविष्टियां मिलीं। नवंबर 2019 में, 8 डिजाइनरों को शॉर्टलिस्ट किया गया। जिन्होंने लक्मे फैशन वीक समर रिसोर्ट 2019 में अपना कलेक्शन प्रस्तुत किया। कांटे की टक्कर में प्रख्यात ज्यूरी ने विजेता का चयन किया।


निर्णायक मंडल (ज्यूरी) में फैशन बिजनेस से जुड़ी सुश्री वंदना तिवारी, फैशन डिज़ाइनर श्री राहुल मिश्रा,वैश्विक पर्यावरण प्रबंधक, एचएंडएम के श्री हर्षवर्धन, यूनाइटेड नेशंस के कंट्री हेट श्री अतुल बगई, नामचीन अभिनेत्री सुश्री नेहा धूपिया, और पेपर मैगज़ीन - न्यूयॉर्क के एडिटोरियल डायरेक्टर मिक्की बोर्डमैन शामिल थे।
 
विजेता जोड़ी पूर्णिमा पांडे और स्टेफानो फनारी को बधाई देते हुए रिलायंस के पॉलीस्टर बिज़नेस के CMO गुंजन शर्मा ने कहा: “आई वाज़ ए साड़ी में फैशन में नवीनतम रुझानों और पर्यावर्ण की चिंता का शानदार फ्यूजन है। मैं सभी शॉर्टलिस्ट प्रतिभागियों के कलेक्शन को देखकर आश्चर्यचकित हूं, क्योंकि क्रिएटिविटी ने पुरानी चीजें को फैशन में बदल दिया है।
 
"यहां प्रदर्शित शानदार कलेक्शन ने हमारे पर्यावरण संरक्षण विचारों को और अधिक मजबूत किया है। सर्कुलर डिज़ाइन चैलेंज जैसी पहल नए डिजाइनरों के लिए नए अवसर प्रदान कर रही है। हमें विश्वास है कि हमारी फैशन फॉर अर्थ जैसी विभिन्न पहलों से संपूर्ण भारतीय कपड़ा उद्योग को दुनिया का लीडर बनने में मदद मिलेगी”

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख तेजपत्ते का काढ़ा दूर करेगा कई सेहत समस्याओं को, जानिए इसे बनाने की विधि