Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

विश्व कप में हमारी गेंदबाजी हर मैदान पर मारक साबित होगी : भुवनेश्वर

webdunia
गुरुवार, 16 मई 2019 (18:31 IST)
नई दिल्ली। इंग्लैंड की पाटा पिचों पर शुरू होने जा रहे क्रिकेट के महासंग्राम विश्व कप से पहले भारतीय टीम के अनुभवी तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने कहा है कि भारत की तेज गेंदबाज इकाई किसी भी पिच पर प्रभावित करने की क्षमता रखती है। 
 
भुवेनश्वर कुमार का इंडियन प्रीमियर लीग का 12वां सत्र भले ही ज्यादा खास न गया हो लेकिन वह इंग्लैंड में होने जा रहे विश्व कप में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए तैयार हैं। यह उनका दूसरा विश्व कप होगा। वह 2015 विश्व कप की टीम में भी शामिल थे। मौजूदा टीम में भुवनेश्वर समेत विश्व कप में भाग ले चुके 7 खिलाड़ी शामिल हैं। भुवनेश्वर 105 वनडे में 118 विकेट ले चुके हैं। 
 
29 वर्षीय गेंदबाज ने बीते 4 वर्षां में गेंदबाजी में बदलाव पर एक अंग्रेजी दैनिक के साथ साक्षात्कार में कहा, पिछले विश्व कप से अब तक मैंने अपनी गेंदबाजी में गति और धीमी गेंद तथा नकल गेंद पर बहुत काम किया है। इसके अलावा मैंने अपनी फिटनेस पर भी काफी ध्यान दिया है। 
 
भारतीय गेंदबाजी के सर्वश्रेष्ठ होने के सवाल पर तेज गेंदबाज ने कहा, मैं इस पर टिप्पणी नहीं करना चाहता कि हमारी गेंदबाजी सर्वश्रेष्ठ है या नहीं क्योंकि मैदान पर हमारा प्रदर्शन बताएगा कि हम बेहतर है या नहीं। हमारा पिछला प्रदर्शन इस बात का साक्षी है कि हमारे अंदर कितनी क्षमता हैं। 
 
भारतीय गेंदबाजों ने खूब मेहनत की है और आज मैं यह कह सकता हूं कि हम किसी भी पिच पर मारक प्रदर्शन कर सकते हैं। 
आईपीएल को लेकर उन्होंने कहा, आईपीएल की वजह से हमे विश्व कप की तैयारियों में मदद मिली हैं। जब आपके पास विकेट और रन हों तो अपने आप ही आत्मविश्वास बढ़ जाता है। मेरे लिए अच्छी लय में होना और विकेट लेना महत्वपूर्ण था जो मैंने सनराइजर्स हैदराबाद के लिए किया। 
 
गेंद को हवा में लहराने में माहिर गेंदबाज भुवनेश्वर ने इंग्लैंड की पाटा पिचों के लिए तैयारियों पर कहा, मैं इस बात से सहमत हूं कि हाल  के वर्षों में इंग्लैंड की पिचें पाटा हुई है लेकिन भारतीय गेंदबाजी इकाई में मुकाबले की शुरुआत और अंत में गेंदबाजी करने की काबिलियत हैं। बाकी प्रदर्शन हमारी योजनाओं पर निर्भर करता हैं। 
 
नकल गेंद पर अपनी महारत को लेकर उन्होंने कहा, बल्लेबाजों को पता होता है कि कौन सा गेंदबाज नकल गेंद डालता है या नहीं इसलिए वे पहले ही तैयार होते है। नकल गेंद का इस्तेमाल गेंदबाज पर निर्भर है कि वह किस तरह से उसका प्रयोग करता हैं। 
 
विश्व कप की तैयारियों को लेकर भुवनेश्वर ने कहा, इंग्लैंड की पिचों पर गेंद स्विंग होगी जो मेरी ताकत है। भारत की पिचों पर स्विंग नहीं मिलती और मैच के दौरान पिच धीमी हो जाती है जबकि इंग्लैंड में ऐसा नहीं होता। पिच से मदद के आधार पर मैं अपनी योजनाएं तय करूंगा।
 
गौरतलब है कि विश्व कप 30 मई से इंग्लैंड और वेल्स में शुरू होने जा रहा है। भारत की तेज गेंदबाजी इकाई मोहम्मद शमी और डैथ ओवर स्पेशलिस्ट जसप्रीत बुमराह के होने से शानदार लग रही हैं। टीम को अपनी गेंदबाजों से काफी उम्मीदें हैं।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

स्टिमैक ने अभ्यास कैंप के लिए 37 संभावित घोषित किए