सतना कलेक्टर के नाम से ठगी की सनसनीखेज कोशिश, ASP के नाम पर कॉल कर वसूले 90 हजार

विशेष प्रतिनिधि

बुधवार, 31 जुलाई 2019 (19:55 IST)
भोपाल। मध्य प्रदेश में ठगों के हौंसले इतने बुलंद हो गए है कि अब वह कलेक्टर और एसपी के नाम पर अभी अपना शिकार बनाने लगे हैं। सतना कलेक्टर सत्येंद्र सिंह के नाम पर लोगों से ठगी करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है।
 
जालसाजों ने कलेक्टर सत्येंद्र सिंह के नाम से फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर उनके परिचितों से नेट बैंकिंग के जरिए खाते में पैसा जमा कराने की कोशिश की। कलेक्टर को अपने नाम पर ठगी का पता भी तब चला जब उनके दोस्तों ने उन्हें फोन कर पैंसा मांगे जाने की जानकारी दी।
 
ठगों ने फेसबुक की फर्जी आईडी के जरिए कलेक्टर साहब के दोस्तों से 20 हजार से लेकर 7 हजार रुपए तक की मांग की। अपने नाम से फर्जी फेसबुक आईडी होने और उसके जरिए ठगी का पता चलने पर कलेक्टर सत्येंद्र सिंह तुरंत सक्रिय हुए और अपने ओरिजनल फेसबुक अंकाउट पर पोस्ट कर ठगी का खुलासा करते हुए जालसाजों के पूरे मैसेज का स्कीन शॉट शेयर कर लोगों को सावधान किया।
 
कलेक्टर ने पूरे मामले की जांच के लिए एडिशनल एसपी को सौंपते हुए और साइबर सेल को पूरे मामले की जांच कर कार्रवाई करने की बात कही। वहीं मीडिया से बात करते हुए कलेक्टर सत्येंद्र सिंह ने कहा कि जालसाजों ने जो अकाउंट नंबर शेयर किया था वह झारखंड के जमशेदपुर का निकला है और पुलिस अब अपनी कार्रवाई कर रही है।
 
एडिशनल एसपी के नाम पर फोन कर ठगी – इससे पहले सतना में ही एडिशनल एसपी गौतम सोलंकी के नाम पर जालसाजों ने फोन करके दो पेट्रोल पंप मालिकों से अपने खाते में 90 हजार रुपए जमा करा लिए थे। ठगों के गिरोह ने जिन खातों में पैंसा जमा कराया वह पुलिस की जांच में जयपुर का निकला अब पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख दिल्ली में सस्ती हुई बिजली, जानिए क्या होगा आप पर असर