अगस्ता वेस्टलैंड मामले में सक्सेना ईडी की हिरासत में

गुरुवार, 31 जनवरी 2019 (22:27 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली की एक अदालत ने अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर सौदा घोटाला मामले में वांछित दुबई के व्यवसायी राजीव सक्सेना को 4 दिनों के प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की हिरासत में भेजने का गुरुवार को आदेश दिया।
 
 
राजीव सक्सेना 3,600 करोड़ रुपए के अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर धनशोधन मामले में वांछित था जबकि लाबिइस्ट दीपक तलवार को ईडी और केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने फॉरेन फंडिंग रूट (एफएफआर) के माध्यम से 90 करोड़ रुपए से अधिक के दुरुपयोग के मामले में वांछित घोषित किया था। दोनों को बुधवार को रात करीब 1.30 बजे के आसपास एक विशेष विमान से दिल्ली लाया गया और ईडी ने गिरफ्तार कर लिया। उसे भारतीय जांच एजेंसियों के अनुरोध पर दुबई के अधिकारियों ने बुधवार को हिरासत में लिया था।
 
अगस्ता वेस्टलैंड मामले में कथित बिचौलिया की भूमिका निभाने वाले ब्रिटिश नागरिक क्रिश्चियन जेम्स मिशेल को गत वर्ष दुबई से प्रत्यर्पित कर भारत लाया गया था। वह अभी न्यायिक हिरासत में जेल में बंद है। इस मामले में तलवार पर आपराधिक षड्यंत्र, जालसाजी और एफसीआरए के विभिन्न प्रावधानों के तहत यूरोप के अग्रणी मिसाइल निर्माण कंपनी से उनके एनजीओ की ओर से प्राप्त एम्बुलेंस और अन्य सामानों के लिए कथित रूप से 90.72 करोड़ रुपए की विदेशी धनराशि निकालने का आरोप लगाया गया है।
 
ईडी और सीबीआई ने तलवार को भ्रष्टाचार के आपराधिक मामलों में गिरफ्तार किया है और आयकर विभाग ने उस पर करचोरी के आरोप लगाए हैं। ईडी ने इस मामले में कई बार राजीव सक्सेना को तलब किया था और उनकी पत्नी शिवानी सक्सेना को जुलाई 2017 में चेन्नई हवाई अड्डे से गिरफ्तार भी किया गया था। फिलहाल वे अब जमानत पर जेल से बाहर हैं। अपर सत्र न्यायाधीश अरविंद कुमार ने सरकारी वकील और बचाव पक्ष के वकील की सुनवाई पूरी होने के बाद सक्सेना को 4 दिनों के ईडी हिरासत में भेजने का आदेश दिया। (वार्ता)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख सुप्रीम कोर्ट का सहारा प्रमुख सुब्रत रॉय को 28 फरवरी को पेश होने का निर्देश