Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia

Flood : गुजरात-महाराष्ट्र में भारी बारिश से बिगड़े हालात, कई इलाकों के लिए जारी हुआ रेड अलर्ट

हमें फॉलो करें Flood : गुजरात-महाराष्ट्र में भारी बारिश से बिगड़े हालात, कई इलाकों के लिए जारी हुआ रेड अलर्ट
, बुधवार, 13 जुलाई 2022 (00:54 IST)
नई दिल्ली। देश के बड़े हिस्से में भारी बारिश की वजह से कई राज्यों में बाढ़ के हालात बने हुए हैं। पिछले 24 घंटों में महाराष्ट्र, गुजरात और मध्यप्रदेश में वर्षा के कारण हुए हादसों में 6 बच्चों समेत कम से कम 18 लोगों की मौत हो गई तथा हजारों लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया। आंध्र प्रदेश में गोदावरी नदी तबाही मचा रही है। गोदावरी की जद वाले इलाकों से 9500 से ज्यादा लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाया गया है। गुजरात, महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश में मौसम विभाग ने बारिश का अलर्ट जारी किया है। गुजरात में अब तक मरने वालों की संख्‍या 69 हो गई है, वहीं महाराष्ट्र में 83 है।
 
गुजरात में बाढ़ से हाहाकार : मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने मंगलवार को बाढ़ प्रभावित बोडेली का दौरा किया। उन्होंने कई इलाकों का हवाई सर्वेक्षण भी किया। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमों ने यहां 8975 लोगों को निकाला है। सोमवार को अहमदाबाद में कई इलाकों में पानी भर गया। शहर के कई शॉपिंग मॉल अभी बंद हैं। पिछले कुछ दिनों में दक्षिण गुजरात के कच्छ, राजकोट और सौराष्ट्र इलाके में भारी बारिश हुई। राज्य में एनडीआरएफ की 20 टीमें काम कर रही हैं। वहां एसडीआरएफ की टीमें भी राज्य के कई हिस्सों में तैनात की गई हैं।
 
बुधवार के लिए रेड अलर्ट : गुजरात के कई हिस्सों में मंगलवार को भी भारी बारिश जारी रही और पिछले 24 घंटे में बारिश संबंधी घटनाओं में और 6 लोगों की जान चली गई। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने सौराष्ट्र क्षेत्र के वलसाड, नवसारी, सूरत, तापी, डांग, नर्मदा, छोटा उदयपुर जिलों के साथ-साथ कच्छ, राजकोट, जामनगर, देवभूमि द्वारका और मोरबी में बुधवार सुबह तक भारी से बहुत भारी बारिश का पूर्वानुमान लगाते हुए ‘रेड अलर्ट’ जारी किया है।
 
बारिश का रेड अलर्ट : महाराष्ट्र के कई हिस्सों में लगातार जारी भारी बारिश के कारण हुए हादसों में पिछले 24 घंटे में कम से कम तीन लोगों की मौत हो गयी और बाढ़ग्रस्त इलाकों से 95 लोगों को बचाया गया है। आपदा प्रबंधन विभाग की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के 13 दल और राज्य आपदा मोचन बल के तीन दल प्रदेश के संकटग्रस्त जिलों में तैनात किए गए हैं। मौसम विभाग ने अगले तीन दिन के लिए नासिक, पालघर और पुणे जिलों के अलग-अलग स्थानों पर अत्यधिक भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है।
webdunia
मप्र में अब तक 60 की मौत : मौसम विभाग ने मध्य प्रदेश के 52 में से 33 जिलों में भारी से बहुत भारी बारिश के लिए ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी किया, जबकि लगातार बारिश के बीच आकाशीय बिजली गिरने से पिछले 24 घंटों में सात लोगों की जान चली गई। राजस्व विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि सोमवार दोपहर ढाई बजे समाप्त 24 घंटे की अवधि में विभिन्न स्थानों पर बिजली गिरने से सात लोगों की मौत हो गई, जिससे एक जून से अब तक राज्य भर में ऐसी घटनाओं से मरने वालों की संख्या 60 हो गई।
  
दिल्ली में नहीं मिली राहत : राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बारिश होने के बाद मंगलवार सुबह तापमान में गिरावट दर्ज की गई। हालांकि, शहर के कई हिस्सों में जलजमाव के कारण यातायात प्रभावित हुआ। मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री कम 26.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं, सुबह साढ़े आठ बजे हवा में आर्द्रता का स्तर 93 प्रतिशत रहा। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, मंगलवार सुबह आठ बजे तक पिछले 24 घंटे में दिल्ली में दो मिमी बारिश दर्ज की गई।
 
राष्ट्रीय राजधानी के कई हिस्सों में बारिश होने के कारण लोगों को उमस से थोड़ी राहत मिली। हालांकि, शहर में बुराड़ी और जसोला सहित कई जगह जलजमाव के कारण यातायात प्रभावित हुआ। मध्य दिल्ली में भी जलजमाव के कारण यातायात धीमा रहा। मौसम विभाग के अनुसार, दिल्ली में मंगलवार को आमतौर पर बादल छाए रहने के साथ ही हल्की से मध्यम बारिश का पूर्वानुमान है। अधिकतम तापमान के 36 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है।


Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

LAC पर बदलाव की कोई भी एकतरफा कोशिश बर्दाश्त नहीं करेंगे : विदेश मंत्री जयशंकर