Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड : गैंगस्टर और आतंक के ठिकानों पर NIA का अटैक, 4 राज्यों में छापेमारी

हमें फॉलो करें webdunia
सोमवार, 12 सितम्बर 2022 (09:43 IST)
नई दिल्ली, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या से जुड़े संदिग्ध आतंकी गिरोहों के संबंध में दिल्ली, एनसीआर, हरियाणा और पंजाब में विभिन्न स्थानों पर तलाशी ले रही है। जानकारी के मुताबिक एनआईए के 160 अधिकारी इस छापेमार कार्रवाई को अंजाम दे रहे हैं। दिल्ली, एनसीआर, हरियाणा और पंजाब में 60 से अधिक ठिकानों की तलाशी ली जा रही है।

बता दें कि दो दिन पहले सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल छठे और आखिरी शूटर दीपक मुंडी को उसके 2 साथियों सहित नेपाल से पकड़ा गया था। पंजाब पुलिस के डीजीपी गौरव यादव ने प्रेस वार्ता में इस गिरफ्तारी और मूसेवाला की हत्या के संबंध में कुछ जानकारियों साझा की थीं। सोमवार को एनआईए ने कई जगहों पर छापेमार कार्रवाई शुरू कर दी है।

बता दें कि अब तक नेपाल से दीपक मुंडी, राजिंदर जोकर और कपिल पंडित को पकड़ा गया है। दीपक मुंडी सिद्धू मूसेवाला की हत्या करने वाले 6 शूटरों में से एक है। वह नेपाल से फर्जी पासपोर्ट के जरिए दुबई भागने की फिराक में था, क्योंकि उसे वहां सेटल करने का आश्वासन दिया गया था।

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड की अब तक की जांच में 23 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है, 35 लोगों को नामजद किया गया है, जबकि 2 आरोपी शूटर एनकाउंटर में मारे जा चुके हैं। गौरतलब है कि पंजाब के मानसा जिले के जवाहरके गांव में 29 मई, 2022 को सिद्धू मूसेवाला की हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।

उल्लेखनीय है कि गायक मूसेवाला पिछले साल दिसंबर में पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी में शामिल हुए थे। इस हत्याकांड के तार तिहाड़ जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई से जुड़े। कनाडा में बैठे बिश्नोई गैंग के सदस्य गोल्डी बरार ने एक फेसबुक पोस्ट, बाद में वीडियो मैसेज जारी कर इस हत्याकांड की जिम्मेदारी ली थी। कुछ दिन पहले ही मूसेवाला की हत्या के मुख्य साजिशकर्ताओं में शामिल सचिन बिश्नोई को अजरबैजान में गिरफ्तार किया गया था। बताया जा रहा है कि रिश्ते में वह लॉरेंस बिश्नोई का भांजा लगता है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

विवाद के बाद भोपाल में तलाकशुदा पुरुषों का 'विवाह विच्छेद समारोह' रद्द