Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

असम, त्रिपुरा में बाढ़ का कहर, इन राज्यों में भारी बारिश की संभावना

हमें फॉलो करें webdunia
रविवार, 19 जून 2022 (08:04 IST)
नई दिल्ली। देश के कई राज्यों में दक्षिण पश्चिम मानसून ने दस्तक दे दी है। असम और त्रिपुरा में बाढ़ से जनजीवन पर बुरा असर पड़ा। पिछले 24 घंटों के दौरान, गुजरात के कुछ हिस्सों, महाराष्ट्र के अधिकांश हिस्सों, दक्षिण मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और ओडिशा में आगे बढ़ गया है।
 
असम में बाढ़ से 19 लाख लोग प्रभावित: असम के 28 जिलों में इस साल लगभग 19 लाख से अधिक लोग बाढ़ से बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं। बाढ़ और भूस्खलन की घटनाओं में राज्य में अब तक 55 लोगों की मौत हो चुकी है। असम के होजई जिले में बाढ़ प्रभावित लोगों को ले जा रही एक नौका पलट गई, जिससे उसमें सवार तीन बच्चे लापता हो गए, जबकि 21 अन्य लोगों को बचा लिया गया।
त्रिपुरा में 10 हज़ार से अधिक लोग बेघर : त्रिपुरा में शुक्रवार से लगातार हो रही भारी बारिश के परिणामस्वरूप आई बाढ़ के कारण राज्य में 10 हजार से अधिक लोग बेघर हो गए हैं। बाढ़ का प्रकोप पश्चिम त्रिपुरा जिले में अगरतला और उसके पड़ोस तक ही सीमित है, जहां हावड़ा नदी का जलस्तर काफी बढ़ गया है और अगरतला नगर निगम तथा उसके पड़ोस के निचले इलाके पानी में डूब गए हैं। रविवार को स्थिति में और सुधार होने की उम्मीद है।
 
webdunia
इन राज्यों में भारी बारिश की संभावना : मौसम एजेंसी स्कायमेट के अनुसार, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम, पूर्वोत्तर बिहार, केरल के कुछ हिस्सों, तटीय कर्नाटक, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, तमिलनाडु के आंतरिक हिस्सों, रायलसीमा और तेलंगाना में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश संभव है। पंजाब और लक्षद्वीप लक्ष्यदीप में एक-दो स्थानों पर भारी वर्षा हो सकती है।
 
झारखंड में मानसून की दस्तक : झारखंड में शनिवार को दक्षिण-पश्चिम मानसून के दस्तक देने के साथ ही किसानों के चेहरे पर खुशी की लहर दौड़ गयी। लगभग पूरे राज्य में रिमझिम बारिश से मौसम सुहाना हो गया। इस बीच मौसम विभाग ने साहिबगंज, पाकुड़, गोड्डा, दुमका और जामताड़ा में अनेक स्थानों पर भारी बारिश की चेतावनी दी है।
 
webdunia
खंडवा में ठिठका मानूसन : मध्यप्रदेश में मानसून के प्रवेश के बाद दक्षिण पश्चिम मानसून 3 दिन से खंडवा में ठिठका हुआ है। सोमवार को इसके आगे बढ़ने की संभावना है। आज इंदौर, भोपाल, रीवा, सागर, जबलपुर और ग्वालियर संभागों में बारिश की संभावना है।
 
बंगाल में भारी बारिश की चेतावनी : दक्षिणपूर्व मानसून के दक्षिण पश्चिम बंगाल में दाखिल होने पर शनिवार को कोलकाता एवं उसके आसपास के जिलों में वर्षा हुई। कूचबिहार, जलपाइगुड़ी, अलीपुरद्वार, दार्जिलिंग और कलिमपोंग जिलों में अगले 24 घंटे में भारी से अत्यधिक वर्षा होने की संभावना है। मौसम कार्यालय ने भारी वर्षा के कारण दार्जिलिंग और कलीमपोंग में भूस्खलन तथा तीस्ता, जलधाका, संकोश और तोरसा नदियों में जलस्तर बढ़ने की चेतावनी दी है।
 
राजस्थान में प्री मानसून : मौसम केंद्र के अनुसार बीकानेर, जयपुर, भरतपुर व कोटा संभाग के जिलों में आगामी तीन-चार दिनों तक मानसून पूर्व गतिविधियां जारी रहने की प्रबल संभावना है। इस दौरान गर्जन के साथ कुछ स्थानों पर हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश होने के आसार है।
 
दिल्ली में मौसम सुहावना : राष्ट्रीय राजधानी में अधिकतम तापमान 32.7 डिग्री सेल्सियस होने के कारण शनिवार को मौसम सुहावना रहा। भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, शहर में 21 जून तक बादल छाए रहने और हल्की बारिश होने का अनुमान है। रविवार को अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमश: 32 और 24 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है।
 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

अग्निपथ पर नहीं थमा बवाल, राजस्थान ने विरोध में पारित किया प्रस्ताव