कोरोना काल में 3 साल के मासूम का अपहरण, मंदिर के बाहर छोड़ भागे

शनिवार, 9 मई 2020 (15:29 IST)
मथुरा। मथुरा में एक गांव के मंदिर के पास तीन वर्षीय उस बच्चे का पता लगा लिया गया है, जिसका राया में उसके घर से बाहर से अपहरण कर लिया गया था। माना जा रहा है कि पुलिस की नाकाबंदी से डर कर अपहरणकर्ता बच्चे को शनिवार तड़के गांव में छोड़ गए।

गौरतलब है कि राया निवासी राजस्व पटवारी राजेंद्र कुमार के बच्चे का अपहरण करने के बाद अपहरणकर्ताओं ने 20 लाख रुपए की फिरौती मांगी थी। बच्चे का पता लगाने के लिए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. गौरव ग्रोवर ने पुलिस की छह टीमें बनाई थीं।

उन्होंने कहा, ‘चूंकि कोरोना वायरस संकट के चलते जिले की सभी सीमाएं सील हैं, इसलिए हमें अंदाजा था कि अपहरणकर्ता बच्चों को लेकर जिले से दूर नहीं गए होंगे। हो सकता है कि वे उसे लेकर आसपास के ही किसी गांव में छिपे हों।‘

ग्रोवर ने बताया कि बच्चा सकुशल मिल गया है तथा अपहरणकर्ताओं की तलाश की जा रही है।

थाना प्रभारी राया सूरज प्रकाश शर्मा ने कहा, ‘हमें सुबह साढ़े छह बजे सूचना मिली कि सादाबाद पुलिस चौकी क्षेत्र के कंबिका गांव के पास एक बच्चा अकेले देखा गया है।‘

उन्होंने बताया कि बच्चा मंदिर के निकट मिला। वह अभी घबराया हुआ है इसलिए अपहरणकर्ताओं के बारे में ज्यादा कुछ नहीं बता पा रहा है। (भाषा)
चित्र सौजन्य : मथुरा पुलिस ट्विटर अकाउंट

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख Special Story : स्विट्‍जरलैंड में Lockdown तो है पर पाबंदियां नहीं