Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Live Update : 5 राज्यों के विधानसभा चुनाव Exit Poll

webdunia
गुरुवार, 29 अप्रैल 2021 (20:10 IST)
पश्चिम बंगाल (West Bengal), तमिलनाडु (Tamilnadu), असम (Assam), केरल (Kerala) और पुडुचेरी (Puducherry) के विधानसभा चुनाव (assembly elections) संपन्न हो चुक हैं। मतगणना 2 मई को होगी, लेकिन इसके पहले विभिन्न एजेंसियों और समाचारों के एक्जिट पोल (Exit Poll) के रिजल्ट सामने आ रहे हैं। आवश्यक नहीं कि ये परिणाम सटीक ही हों, लेकिन इनसे आगामी परिणामों के रुझान तो पता चलते ही हैं। आइए जानते हैं क्या कहते हैं एक्जिट पोल...


10:21 PM, 29th Apr
webdunia

10:20 PM, 29th Apr
webdunia

09:37 PM, 29th Apr
webdunia

09:36 PM, 29th Apr
webdunia

08:27 PM, 29th Apr
- एबीपी-सी वोटर सर्वे के मुताबिक पुडुचेरी में भाजपा गठबंधन को 19 से 23 सीटों पर जीत मिल सकती है, जबकि कांग्रेस 6 से 10 सीटों पर जीत सकती है। 1 से 2 सीटों पर अन्य जीत सकते हैं।
 
- सी-वोटर सर्वे के मुताबिक, केरल में वामपंथी गठबंधन की फिर से वापसी सकती है। यहां लेफ्ट को 71 से 77 सीटें, कांग्रेस नीत यूडीएफ को 62 से 68 सीटें मिलने की संभावना है, वहीं भाजपा को 0-2 सीटें मिल सकती हैं।

08:03 PM, 29th Apr
- पोल ऑफ पोल्स के अनुसार, TMC को बहुमत मिल सकता है, जबकि भाजपा कड़ी टक्कर देती दिख रही है। इसके मुताबिक टीएमसी को 154, भाजपा को 122 और लेफ्ट प्लस को 15 सीटें मिल सकती हैं। बंगाल में बहुमत के लिए 148 सीटों की जरूरत है। 

- एबीपी और सी वोटर के एक्जिट पोल के अनुसार, तमिलनाडु की 234 विधानसभा सीटों में कांग्रेस-डीएमके गठबंधन को पूर्ण बहुमत मिल सकता है। इस गठबंधन को 46.7 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं, वहीं एआईएडीएम-बीजेपी को 35 प्रतिशत वोट मिलते दिख रहे हैं। अन्य के खाते में 18.3 प्रतिशत वोट जा सकते हैं। एबीपी-सी वोटर के मुताबिक, राज्य में कांग्रेस गठबंधन को तमिलनाडु में सबसे ज्यादा 160-172 सीटें मिल रही हैं। बीजेपी-एआईएडीएमके को 58 से 70 सीटें मिलने का अनुमान है। 

- तमिलनाडु में इंडिया टुडे-सीएनएक्स के अनुसार बीजेपी-एआईएडीएम के गठबंधन को 74 से 84 सीटें मिल सकती हैं, कांग्रेस और उसके सहयोगियों को 40 से 50 सीटें मिल सकती हैं। अन्य के खाते में 1 से 3 सीटें जा सकती हैं।  तमिलनाडु में इंडिया टुडे- एक्सिस टुडे माय इंडिया के मुताबिक डीएमके गठबंधन 175 से 195, 
एडीएमके गठबंधन 38 से 54, एएमएमके गठबंधन 1 से 2, एमएनएम को 0-2 सीटें मिलने का अनुमान।

07:55 PM, 29th Apr
इंडिया न्यूज-जन की बात के मुताबिक भाजपा को बंगाल में 162 से 185 सीटें मिल सकती हैं, जबकि  सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस को 121 से 140 सीटें हासिल हो सकती हैं। वहीं, कांग्रेस को करीब 9 सीटें  मिल सकती हैं।

07:47 PM, 29th Apr
केरल में एलडीएफ 47 प्रतिशत, यूडीएफ 38 प्रतिशत, भाजपा 12 और अन्य को 3 प्रतिशत वोट प्रतिशत मिलने का अनुमान। इंडिया टुडे-सी वोटर के मुताबिक  एलडीएफ 104 से 120, यूडीएफ 20 से 36, बीजेपी 2 और अन्य को 2 सीटें मिलने का अनुमान। 

07:46 PM, 29th Apr
एबीपी-सी वोटर सर्वे के मुताबिक असम में भाजपा को बढ़त है, लेकिन इस बार टक्कर कड़ी है। राज्य की 126 में से 58-71 सीटें बीजेपी के खाते में जा सकती हैं, जबकि कांग्रेस 53 से 66 सीटें जीत सकती है। वहीं अन्य के खाते में 5 सीटें जा सकती हैं।

07:41 PM, 29th Apr
टाइम्स नाउ और सी वोटर एक पोल के मुताबिक बंगाल में ममता को 158 सीटें मिल सकती हैं, जबकि भाजपा के खाते में 115 सीटें आ सकती हैं। कांग्रेस-लेफ्ट के खाते में 22 सीटें जाने का अनुमान है। ग्रेटर कोलकाता की 56 सीटों में से टीएमसी 37-39 सीटों के बीच जीत सकती है और बीजेपी को 16-18 सीटों पर जीत हासिल हो सकती है। कांग्रेस के खाते में 0 से 2 सीटें जाने की ही संभावना है।

07:18 PM, 29th Apr
एबीपी-सी वोटर के सर्वे के मुताबिक पश्चिम बंगाल में ममता को 152 से 164 सीटें मिल सकती हैं, जबकि भाजपा को 109 से 121 सीटें मिल सकती हैं। कांग्रेस के खाते में 14 से 25 सीटें जा सकती हैं। वोट प्रतिशत के मामले में भी ममता आगे हैं। उनकी पार्टी को 42 प्रतिशत के लगभग जबकि भाजपा को 39.2 और कांग्रेस को 15.4 प्रतिशत  वोट मिल सकते हैं।

07:04 PM, 29th Apr
- सर्वे के मुताबिक असम में भाजपा गठबंधन को 48 प्रतिशत वोट, कांग्रेस गठबंधन को 40 प्रतिशत, अन्य को 12 प्रतिशत। 
- असम में भाजपा 75 से 85, कांग्रेस 40-50 और अन्य को 1-4 सीटों का अनुमान।

06:51 PM, 29th Apr
- तमिलनाडु में विधानसभा की 234 सीटें हैं। तमिलनाडु का चुनाव इसलिए भी खास है क्योंकि इस बार न तो 
जयललिता हैं और न ही करुणानिधि। इन दोनों दिग्गजों के निधन के बाद सत्तारूढ़ एआईएडीएमके और 
डीएमके दोनों के लिए यह चुनाव अहम हैं।
 
- एमके स्टालिन अपने पिता करुणानिधि की विरासत के साथ सत्ता हासिल करने की जुगत में हैं तो आईएडीएमके ने भी एक बार फिर सत्ता हासिल करने के लिए पूरा जोर लगाया है। पार्टी का केन्द्र में सत्तारूढ़ भाजपा के साथ गठबंधन है। 
 
- यहां सीपीएम की अगुआई में LDF (लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट) सत्ता में है। वहीं कांग्रेस की अगुआई में UDF (यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट) से उसकी सीधी टक्कर है। 2016 के विधानसभा चुनाव में सीपीएम ने 58, कांग्रेस ने 22, सीपीआई ने 19, इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग ने 18, केरल कांग्रेस (एम) ने 6, जनता दल (सेकुलर) ने 3, एनसीपी ने 2, बीजेपी ने 1 और अन्य ने 11 सीटों पर कब्जा जमाया था। केरल में विधानसभा की 140 सीटें हैं। 
 
- 2016 के चुनाव में असम में भाजपा पहली बार सत्ता में आई थी। पिछले चुनाव में जहां कांग्रेस अकेले लड़ी थी, वहीं इस चुनाव में पार्टी ने बदरुद्दीन अजमल के नेतृत्व वाले एआईयूडीएफ से गठबंधन किया है। 2016 में भाजपा ने 61 सीटें हासिल की थीं। वहीं कांग्रेस 25 और एआईयूडीएफ 13 सीटें जीतने में कामयाब रही थीं। असम में विधानसभा की 126 सीटें हैं। 
 
-पुडुचेरी में विधानसभा की 30 सीटें। 2016 में यहां कांग्रेस की सरकार बनी थी, जबकि चुनाव से कुछ समय पहले ही कांग्रेस की सरकार अल्पमत में आ गई थी और यहां राष्ट्रपति शासन लगा दिया गया था।

06:50 PM, 29th Apr
- इस बार पश्चिम बंगाल में 8 चरणों में विधानसभा चुनाव संपन्न हुए हैं। राज्य में विधानसभा की 294 सीटें हैं। ममता बनर्जी के नेतृत्व में पिछले 10 साल से यहां तृणमूल कांग्रेस की सरकार है। इस बार टीएमसी को 
भाजपा से कड़ी टक्कर मिलने के आसार हैं।
- 2016 में ममता बनर्जी की पार्टी को 211 सीटें मिली थीं। कांग्रेस को 44, कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया को 1, कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (मार्क्‍ससिस्‍ट) को 26, भाजपा को 3, ऑल इंडिया फारवर्ड ब्‍लॉक 2, रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी 3, गोरखा जनमुक्ति मोर्चा 3 और निर्दलीय को एक सीट मिली थी।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

चारा घोटाले में 40 महीने से जेल में बंद लालू यादव की रिहाई का आदेश