Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Weather Prediction : हिमाचल में बर्फबारी से करोड़ों का नुकसान, मध्‍यप्रदेश में चमकी ठंड

webdunia
शुक्रवार, 24 जनवरी 2020 (00:30 IST)
शिमला। हिमाचल प्रदेश में पिछले एक माह से अब तक ग्लेशियर, बारिश-बर्फबारी और भूस्खलन के चलते 8 लोगों की मौत हो गई तथा 21 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। प्रदेश में 25 जनवरी को मध्यवर्ती और ऊंचाई वाले इलाकों में बारिश और बर्फबारी हो सकती है, लेकिन 28 जनवरी से फिर से ताजा पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होगा। वहीं मध्यप्रदेश में कई स्थानों पर दिन और रात का पारा लुढ़क गया, जिससे कड़ाके की ठंड में इजाफा हो गया।

हिमाचल प्रदेश में 12 दिसंबर से 22 जनवरी तक भूस्खलन, ग्लेशियर के नीचे दबने, ठंड और आग लगने से 8 लोगों की मौत और सरकारी और निजी संपति का 21 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। सबसे अधिक नुकसान पीडब्ल्यूडी का हुआ है।

मौसम विभाग के अनुसार, हिमाचल प्रदेश में 25 जनवरी को मध्यवर्ती और ऊंचाई वाले इलाकों में बारिश और बर्फबारी हो सकती है, लेकिन 28 जनवरी से फिर से ताजा पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होगा। जिले में सभी सड़कें यातायात के लिए खोल दी गई हैं और अति दुर्गम क्षेत्र डोडरा क्वार उपमण्डल में बर्फ हटाने का कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा है। राज्य के न्यूनतम तापमान में कोई खास परिवर्तन नहीं आया, लेकिन अधिकतम तापमान में इजाफा हुआ है।
webdunia

भोपाल समेत मध्यप्रदेश के कई शहरों में कड़ाके की ठंड : मध्यप्रदेश के मौसम में फिलहाल कोई सिस्टम नहीं होने से उत्तर से आ रही सर्द हवाओं के कारण आज राजधानी भोपाल सहित कई स्थानों पर दिन और रात का पारा लुढ़क गया और एक बार फिर से कड़ाके की ठंड में इजाफा हो गया है। प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान 6 डिग्री रीवा एवं श्योपुर में रिकॉर्ड हुआ है। उमरिया में भी कड़ाके की ठंड पड़ रही है।

भोपाल 16 से 18 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उत्तरी सर्द हवाएं चलने से दिन के तापमान में भी वृद्धि नहीं हो पाई तथा पारा और लुढ़क गया। यहां अधिकतम तापमान कल की तुलना में एक डिग्री गिरकर आज 20.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ, जो सामान्य से 4 डिग्री कम है, जबकि रात्रि का तापमान भी कल के मुकाबले 3 डिग्री गिरकर 10.8 डिग्री अंकित हुआ। यह सामान्य है।

राजस्थान पर बना सिस्टम निष्प्रभावी हो गया है तथा 24 जनवरी को बन रहे पश्चिमी विक्षोभ का भी मध्यप्रदेश में कोई खास असर होने की संभावना नहीं है। इसके बाद 27 जनवरी को एक और पश्चिमी विक्षोभ है, उसका भी प्रदेश में ज्यादा प्रभाव होने की संभावना कम है। अगले 3-4 दिन तक रात का पारा लुढ़केगा, लेकिन दिन के तापमान में वृद्धि हो सकती है।
webdunia

हिमाचल में बर्फबारी से अवरुद्ध अधिकांश मार्ग बहाल : हिमाचल प्रदेश में भारी बर्फबारी के बाद लाहुल स्पीति के काजा उपमंडल में अवरुद्ध सड़कों को साफ करने का काम जारी है। अभी तक काजा से की, किब्बर-चिचिम तक सड़क खोल दी गई है। इसके साथ ही काजा से हिक्कम तक, शिचलिंग से डंखर तक और शिचलिग से माने तक भी सड़क बहाल कर दी गई है।

हिक्कम से कोमिक तक मार्ग शीघ्र खोल दिया जाएगा। इसके साथ ही अतरगु से सगनम मार्ग तथा लिदाग डेमुल मार्ग जल्द खुल जाएगा। बर्फबारी काफी हो जाने से रास्ते खोलने में शुरू में दिक्कतें पेश आईं लेकिन अब अधिकांश मार्ग खोल दिए गए हैं।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

T20 series के ठीक पहले कप्तान Virat Kohli ने दिया चौंकाने वाला बयान